भारती एयरटेल एशिया के उभरते बाजार में दूसरे पायदान पर पहुंची

भारती एयरटेल एशिया के उभरते बाजार में दूसरे पायदान पर पहुंची

नई दिल्ली : भारतीय दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल ने उभरते बाजारों (ईएम) में एशिया की सबसे मूल्यवान कंपनी के रूप में दूसरा स्थान हासिल किया है। चीन मोबाइल कंपनी चायना मोबाइल सूची में सबसे ऊपर है।

ब्लूमबर्ग डेटा के मुताबिक 2019 में शेयर की कीमत और इक्विटी विस्तार में वृद्धि से एयरटेल को सूची में चढ़ने में मदद मिली। कंपनी के पास अब लगभग 41 बिलियन डॉलर का मार्केट कैपिटलाइज़ेशन (एमकैप) है, जबकि फ्रंट-रनर चायना मोबाइल 145 बिलियन डॉलर के एमकैप के साथ पहले स्थान पर है।

एयरटेल ने एमिरेट्स टेलिकॉम, टेलीकॉम इंडोनेशिया और चाइना यूनिकॉम को पछाड़ कर यह मुकाम हासिल किया है।एयरटेल ने पिछले साल की तरह इस सेगमेंट में कदम रखा है, इसका स्टॉक वैश्विक स्तर पर सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाला था।

ब्लूमबर्ग ने कहा कि दुनिया भर के शीर्ष 50 मोबाइल ऑपरेटरों के संयुक्त एम-कैप में सात प्रतिशत की वृद्धि के मुकाबले एयरटेल ने 135 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की।एशिया में राजस्व के मामले में, कंपनी अमीरात टेलिकॉम से पीछे 12 बिलियन डॉलर के साथ छठे स्थान पर है।

वैश्विक स्तर पर, एयरटेल एम-कैप के मामले में 11 वें और राजस्व के मामले में 17 वें स्थान पर है। संयुक्त राज्य अमेरिका की दूरसंचार सेवा देने वाली कंपनी एटी एंड टी $ 275 बिलियन और $ 181 बिलियन राजस्व के साथ पहले वेरिजॉन कम्युनिकेशंस $ 240 बिलियन का एम-कैप और 132 बिलियन डॉलर के राजस्व के साथ दूसरे पायदान पर काबिज है।


ख़बरें दबाव में हमेशा आपके हितों से समझौता करती रहेंगी। हमारी पत्रकारिता को हर तरह के दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

HELP US

news aroma