झारखंड में पत्रकार का अपहरण, लोहरदगा से किया गया बरामद

झारखंड में पत्रकार का अपहरण, लोहरदगा से किया गया बरामद

खूंटी : गुमला जिले पालकोट के रहने वाले पत्रकार देवगन सोनी का खूंटी के प्रसिद्ध बाबा आम्रेश्वरधाम मंदिर से रविवार को दोपहर लगभग ढाई बजे अपहरण कर लिया गया।

पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए पत्रकार को लोहरदगा से बरामद कर लिया। जानकारी के अनुसार अंगराबारी मंदिर के समीप से आधा दर्जन लोगों ने अगवा कर लिया।

Uploaded Image

अगवा की सूचनाप खूंटी एसपी आशुतोष शेखर और और मुरहू थाना को उसके परिजनों द्वारा दी गई। पुलिस अपहृत पत्रकार देवगन सोनी को बरामद करने के लिए सक्रिय हो गई।

खूंटी जिले सीमाओं को सील कर दिया गया और सभी थाना क्षेत्रों को के साथ पड़ोसी जिलों को उस वाहन का नंबर भी दे दिया गया, जिससे देवगन का अपहरण हुआ था। पुलिस अपहर्ताओं का पीछा करते हुए उसे लोहरदगा से सकुशल बरामद कर लिया।

वाहन की पूजा कराने देवगन सोनी गया था अंगराबारी अपहृत पत्रकार की पत्नी सीता सोनी एवं अन्य परिजनों ने देवगन सोनी ने बताया देवगन सोनी हाल में खरीदे गये वाहन की पूजा कराने रविवार को अंगराबारी गये थे। वहां पांच-छह लोगों ने उनके साथ बकझक किया और अपने चार पहिया वाहन में बैठा कर ले गये।

Uploaded Image

अपहृत पत्रकार देवगन सोनी का साला रोहित कुमार लोहरदगा से एक लड़की को प्रेमिका बताकर चार दिल पहले पालकोट ले गया था। देवगन सोनी ने पहल करके लड़का लड़की को पालकोट पुलिस के हवाले कर दिया था।

कहा था कि कानून का मामला है इसलिए हवाले कर रहा हूं। लेकिन बाद में पालकोट पुलिस ने दोनों को थाना से छोड़ दिया। उसके बाद दोनों कहां गए इसका पता नहीं चला।

लड़की के पिता देवेन्द्र पांडेय और भाई अजय लोहरदगा के रहने वाले हैं। उन लोगों ने देवगन सोनी पर लड़की वापस करने का दबाव बनाया था।

लकड़ी पक्ष को लगा था कि पत्रकार होने के नाते और पुलिस से जान पहचान होने के कारण लड़का लड़की को गायब कराया है। इसी संदेह में पत्रकार को अंगराबाड़ी से उठा लिया गया।

जानकारी के अनुसार पत्रकार देवगन सोनी का साला रोहित कुामर लोहरदागा की एक लड़की को प्रेमिका बताकर चार दिन पहले पालकोट पत्रकार देवगन के घर ले गया था। देवगन ने लड़का और लड़की दोनों को पुलिस के हवाले कर दिया।

बाद में पुलिस ने दोनों को थाना से ही छोड़ दिया। इसके बाद दोनों कहां गये, इसकी जानकारी किसी को नहंी मिली। लड़की लोहरदगा की रहने वाली है। लड़की के पिता और भाई ने देवगन पर लड़की को वापस लाने का दबाव बनाया।

Uploaded Image

लड़की के घर वालों को लगा कि पत्रकार होने के कारण देवगन पुलिस से चजान पहचान होने के कारण उसने ही लड़की को गायब कराया है।

दोनों को पता चला कि पत्रकार रविवार को अंगराबारी वाहन की पूजा कराने अंगराबारी जाने वाला है। दोनों पिता-पुत्र ने अपने परिजनों के साथ उसे अंगराबारी से उठा लिया।


ख़बरें दबाव में हमेशा आपके हितों से समझौता करती रहेंगी। हमारी पत्रकारिता को हर तरह के दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

HELP US

news aroma