19 C
Ranchi
Saturday, February 27, 2021
Home खबर राज्यपाल ने मोरहाबादी मैदान में किया झंडोत्तोलन

राज्यपाल ने मोरहाबादी मैदान में किया झंडोत्तोलन

रांची: झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने 72वें गणतंत्र दिवस के मौके पर मंगलवार को मोरहाबादी मैदान में झंडोत्तोलन किया।

डीजीपी, गृह सचिव और मुख्यसचिव की मौजूदगी में राज्यपाल ने परेड का निरीक्षण किया और सलामी ली। मौके पर राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि  हम सब जानते हैं कि विगत वर्ष हमारे लिए चुनौतियों से भरा रहा।

कोरोना महामारी की विभीषिका ने भारत सहित संपूर्ण विश्व को प्रभावित किया और स्वाभाविक रूप से हमारा राज्य भी इस घातक वायरस के प्रकोप से अछूता नहीं रहा।

झारखंड राज्य के समक्ष इस महामारी ने कई प्रकार की चुनौतियां प्रस्तुत की, लेकिन झारखंडवासियों के धैर्य और अनुशासन, कोरोना वायरस के विरुद्ध संघर्ष में अग्रणी भूमिका निभाने वाले हमारे डॉक्टर, चिकित्सा कर्मी, पुलिसकर्मी, स्वच्छताकर्मियों के सहयोग से राज्य सरकार इस महामारी के कुप्रभाव को काफी हद तक कम करने में सफल रही है।

उन्होंने कहा कि नया वर्ष हमारे लिए नई उम्मीद लेकर आया है।

कोविड-19 टीकाकरण का शुभारंभ हो चुका है। राज्य भर में जिला अस्पताल और सामुदायिक केंद्र की स्थापना की गई है, जिसके माध्यम से कोविड-19 का टीकाकरण का काम चल रहा है।

राज्य जल्द ही इस महामारी पर पूर्ण रूप से विजय प्राप्त कर लेगा। उन्होंने कहा कि झारखंड राज्य में विकास की रणनीति समावेशी न्यायोचित और सतत होने के साथ-साथ आर्थिक प्रगति पर आधारित होगी।

झारखंड को देश के विकसित राज्यों की श्रेणी में लाने के लिए सभी लोगों क्षेत्रों और वर्गों को साथ लेकर चलना होगा और राष्ट्रीय हित को सबसे ऊपर रखते हुए सभी को अपनी भूमिका का निर्वहन करना होगा।

राज्यपाल ने कहा कि 29 दिसंबर को सरकार के प्रथम वर्षगांठ के अवसर पर राज्य के विकास को गति देने के लिए सरकार ने कई महत्वपूर्ण योजनाओं की शुरुआत की है।

किसानों को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए झारखंड राज्य कृषि ऋण माफी योजना का शुभारंभ किया गया। इस योजना के तहत 31 मार्च 2020 तक के मानक फसल ऋण के तहत 50 हजार तक की बकाया राशि माफ की जाएगी।

इसके अतिरिक्त झारखंड सरकार ने झारखंड राज्य फसल राहत योजना के नाम से एक नई योजना की शुरुआत की है।

वहीं राज्य में पशुपालन को आजीविका का साधन बनाने के लिए मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना का भी शुभारंभ किया गया है।

राज्यपाल ने कहा कि झारखंड के युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है।

इसके लिए झारखंड राज्य के गठन के पश्चात पहली बार राज्य सरकार की तरफ से झारखंड कंबाइंड सिविल सर्विस एग्जामिनेशन रूल्स 2021 का गठन किया गया है।

ताकि जेपीएससी की तरफ से नियुक्तियां पारदर्शी और निर्विवाद तरीके से की जा सके।

झारखंड लोक सेवा आयोग की तरफ से आयोजित की जाने वाली परीक्षाओं के लिए कैलेंडर जारी किया गया है। झारखंड गठन के बाद पहली बार राज्य में जिला खेल अधिकारियों की नियुक्ति की गई है।

आवास विहीन लोगों को पक्का मकान

राज्यपाल ने कहा कि सबके लिए आवास सरकार की एक महत्वकांक्षी योजना है। इसके लिए सारी आवास विहीन लोगों को पक्का मकान उपलब्ध कराया जा रहा है। अब तक कुल 52500 आवासों में लोगों को गृह प्रवेश करवाया जा चुका है।