33 C
Ranchi
Tuesday, April 13, 2021
- Advertisement -

किम जोंग-उन ने सैन्य अधिकारियों के बीच अनुशासन पर चर्चा के लिए बैठक की

- Advertisement -

प्योंगयांग : उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग-उन ने सैन्य अधिकारियों के बीच अनुशासन पर चर्चा करने और युवा अधिकारियों पर कड़े नियंत्रण के लिए एक केंद्रीय सैन्य आयोग की बैठक की अध्यक्षता की।

देश की सरकारी मीडिया ने गुरुवार को यह जानकारी दी।

कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी के अनुसार, सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी की बुधवार को विस्तारित सैन्य आयोग की बैठक में, किम ने विशेष रूप से सेना में युवा पीढ़ी के बीच क्रांतिकारी नैतिक अनुशासन स्थापित करने के महत्व पर जोर दिया।

समाचार एजेंसी योनहाप के मुताबिक, किम ने पीपल्स आर्मी का जिक्र करते हुए कहा, केपीए के भीतर क्रांतिकारी नैतिक अनुशासन स्थापित करना केवल एक तकनीकी मुद्दा नहीं है, बल्कि केपीए के अस्तित्व और सेना के निर्माण और सैन्य गतिविधियों में सफलता या विफलता से संबंधित एक बड़ा मुद्दा है।

किम ने यह भी सुनिश्चित करने के लिए गहन शिक्षा और नियंत्रण का आह्वान किया कि नई पीढ़ी के कमांडिंग अधिकारियों के पास उचित राजनीतिक चेतना और नैतिक ²ष्टिकोण हो।

बैठक में सैन्य और राजनीतिक गतिविधियों और केपीए कमांडिंग अधिकारियों के नैतिक जीवन में सामने आई कमियों के बारे में भी चर्चा हुई।

वैश्विक प्रतिबंधों की चुनौतियों और वैश्विक महामारी के खिलाफ देश की लंबी लड़ाई के बीच किम की आलोचना का उद्देश्य सैन्य अधिकारियों के बीच अनुशासन को मजबूत करना है।

बैठक में कई प्रमुख कमांडिंग अधिकारियों को बर्खास्त या नियुक्त किया गया, जो संगठन में एक स्पष्ट पीढ़ीगत परिवर्तन को दर्शाता है।

किम सोंग-जी को उत्तर कोरिया की नौसेना के कमांडर के रूप में नियुक्त किया गया, जबकि किम चुंग-इल को एविएशन फोर्स का कमांडर नियुक्त किया गया।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img