24 C
Ranchi
Tuesday, April 13, 2021
- Advertisement -

फिर एक बार पारा शिक्षकों ने बुलाई बैठक, बजट सत्र के दौरान आंदोलन की रणनीति करेंगे तैयार

- Advertisement -

रांची: पारा शिक्षकों ने शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की अपील पर पारा शिक्षकों ने भले ही मुख्यमंत्री आवास घेराव के कार्यक्रम को स्थगित कर दिया था।

साथ ही सीएम हेमंत सोरेन लगातार कह रहे हैं कि शिक्षा और शिक्षकों की बेहतरी के लिए सरकार प्रतिबद्ध है और इस दिशा में लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।

झारखंड मंत्रालय में झारखंड राज्य प्रशिक्षित पारा संघ के प्रतिनिधिमंडल के साथ बैठक में उन्होंने कहा कि उनकी मांगों को लेकर सरकार द्वारा जल्दी ही कोई ठोस निर्णय लिया जाएगा।

इस सिलसिले में नियमावली को तैयार करने की प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने यह भी कहा कि नियमावली से ज्यादा से ज्यादा पारा शिक्षकों को लाभ मिले, इसका पूरा ध्यान रखा जाएगा।

इस मौके पर संघ के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री को अपनी मांगों को लेकर एक बार फिर ज्ञापन भी सौंपा था। वहीं खबरों के माध्यम से जानकारी दी जाती है कि पारा शिक्षकों के लिए कई कल्याणकारी काम हो रहे हैं।

लेकिन वास्तविकता में कुछ नहीं दिखता है। पारा शिक्षकों का कहना है कि सरकार की गति काफी धीमी है। इसी के मद्देनजर विधानसभा कैसे कूच करना है, इस पर विचार करेंगे।

आंदोलन को अंतिम रूप देने के लिए बुलाई गई है बैठक

विधानसभा सत्र के दौरान आंदोलनात्मक गतिविधि को अंतिम रूप देने के लिए एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा के राज्य इकाई की बैठक 28 फरवरी 2021 रविवार को 11 बजे से मोराबादी मैदान रांची में रखी गई है।

बैठक में राज्य इकाई के सभी सदस्य, सभी जिलाध्यक्ष, जिला सचिव, अगुआ साथीगण से उपस्थित रहने का आग्रह किया गया है।

मोर्चा की राज्य इकाई बैठक के पश्चात 1 मार्च को रांची प्रवास में रहेगी एवं विभाग को लिखित सूचना देने के साथ-साथ सचिवालय व परियोजना भी जाएगी और नियमावली के साथ तात्कालिक समस्याओं पर हुई प्रगति से अवगत होगी।

इस बैठक में बिनोद बिहारी महतो, संजय कुमार दुबे, हृषिकेश पाठक, प्रमोद कुमार, नरोत्तम सिंह मुंडा, दशरथ ठाकुर, मोहन मंडल, प्रद्युम्न कुमार सिंह (सिंटू) आदि शामिल हुए।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img