33 C
Ranchi
Tuesday, April 13, 2021
- Advertisement -

भारत में 28 फरवरी को लॉन्च होने वाले रॉकेट का पूर्वाभ्यास पूरा

- Advertisement -

चेन्नई: भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने गुरुवार को कहा कि उसने अपने रॉकेट पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल-सी 51 (पीएसएलवी-सी 51) का प्रक्षेपण पूर्वाभ्यास पूरा कर लिया है।

इसरो के अनुसार, पीएसएलवी-सी51 रॉकेट का लॉन्च रिहर्सल पूरा हो गया है। 28 फरवरी की सुबह श्रीहरिकोटा में ब्राजील के उपग्रह अमोनिया -1 और 18 अन्य उपग्रहों को इसके साथ लॉन्च किया जाएगा।

अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा कि सार्वजनिक लॉन्च देखने वाली गैलेरी कोविड -19 महामारी के कारण बंद रहेगी।

2021 के लिए भारत का पहला अंतरिक्ष अभियान न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड (एनएसआईएल) पूर्ण रूप से वाणिज्यिक है, जिसमें प्राथमिक पैसेंजर अमोनिया -1 उपग्रह है।

एनएसआईएल इस मिशन को स्पेशफ्लाइट इंक, यूएसए के साथ एक वाणिज्यिक व्यवस्था के तहत पूरा कर रही है।

अमोनिया-1 राष्ट्रीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (आईएनपीई) का ऑप्टिकल अर्थ ऑब्जर्वेशन उपग्रह है।

इसरो ने कहा कि यह उपग्रह अमेजन क्षेत्र में वनों की कटाई की निगरानी और ब्राजील के क्षेत्र में विविध कृषि के विश्लेषण के लिए उपयोगकर्ताओं को दूरस्थ संवेदी डेटा प्रदान करके मौजूदा संरचना को और मजबूत करेगा।

18 सह-यात्री उपग्रहों में इन-स्पेश से चार और एनएसआईएल के 14 शामिल हैं।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img