24 C
Ranchi
Tuesday, April 13, 2021
- Advertisement -

प्रशासनिक अधिकारी की मौजूदगी में गुमला सामूहिक हत्याकांड के मृतकों को दफनाया गया

- Advertisement -

गुमला: कामदारा थाना क्षेत्र अंतर्गत बुरुहातु (पहाड़ गांव) आमटोली में सामूहिक हत्याकांड में जान गंवा चुके एक ही परिवार के पांच सदस्यों के शवों को गुरुवार को आदिवासी रीति-रिवाज के अनुसार दफना दिया गया।

इनके अंतिम संस्कार में पूर्व स्पीकर डॉक्टर दिनेश उरांव सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे।

उल्लेखनीय है कि मंगलवार की रात एक ही परिवार के पांच लोगों की निर्मम हत्या कर दी गई थी। स्थानीय पुलिस इस सामूहिक हत्याकांड की जांच कर रही है।

इस सामूहिक हत्याकांड के मृतकों में निकोदिन तोपनो, उसकी पत्नी जोफिना तोपनो, पुत्र भिन्सेंट तोपनो पुत्रवधू सिलवंती तोपनो और पांच साल का मासूम पौत्र अलबीन तोपनो हैं।

इनके शवों को गुरुवार को आदिवासी रीति-रिवाज के अनुसार दफनाया गया।

रांची में रह कर पढ़ाई कर रही परिवार की एकमात्र जीवित सदस्य सात साल की अंजना दादा-दादी, मां-बाप और छोटे भाई के शव को देखते ही बिलख-बिलख कर रोने लगी।

अन्य परिजनों का भी रो-रो कर बुरा हाल था। पूरा वातावरण बेहद मार्मिक था।

इस दौरान वहां पर मौजूद लोगों की आंखें भी नम हो गईं। दफनाने के पूर्व रिश्तेदार सह प्रचारक फादर लोरेंस कंडुलना के नेतृत्व में बाईबल पाठ कर परमपिता परमेश्वर से आत्माओं की शान्ति की प्रार्थना की गई।

इस दौरान पूर्व स्पीकर डॉक्टर दिनेश उरांव, बीडीओ रविंद्र गुप्ता, इंस्पेक्टर बैजू उरांव, कुरकुरा थाना प्रभारी छोटू उरांव, पुअनि बालमुकुंद सिंह, भावेश, बड़ाइक तारकेश्वर सिंह, झामुमो नेता अंतोनी सुरीन, सालेगुटू के मुखिया विरेन्द्र सुरीन आदि प्रमुख लोग उपस्थित थे।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img