24 C
Ranchi
Tuesday, April 13, 2021
- Advertisement -

शेयर बाजार फिर हुआ गुलजार, सेंसेक्स चढ़ा 750 अंक, निफ्टी 14762 पर ठहरा (लीड-1)

- Advertisement -

मुंबई : देश का शेयर बाजार सोमवार को फिर जोरदार लिवाली से गुलजार रहा।

बीते सप्ताह आई भारी गिरावट के बाद घरेलू शेयर बाजार में जबरदस्त रिकवरी आई और सेंसेक्स 750 अंकों की उछाल के साथ 49,850 पर बंद हुआ जबकि निफ्टी 232 अंकों की छलांग लगाकर 14,762 पर ठहरा।

उत्साहवर्धक वैश्विक संकेतों और बीते सप्ताह जारी जीडीपी के आंकड़ों से बाजार में बहार लौटी।

सेंसेक्स बीते सत्र से 749.85 अंकों यानी 1.53 फीसदी की तेजी के साथ 49,849.84 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी बीते सत्र से 232.40 अंकों यानी 1.60 फीसदी की तेजी के साथ 14,761.55 पर ठहरा।

हालांकि, दिनभर के कारोबार के दौरान उतार-चढ़ाव का दौर जारी और ऑटो, धातु समेत तमाम सेक्टरों में चौतरफा लिवाली से बाजार की रौनक बनी रही, लेकिन टेलीकॉम सेक्टर में बिकवाली का दबाव बना रहा।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स बीते सत्र से 647.72 अंकों की बढ़त के साथ 49,747.71 पर खुला और दिनभर के कारोबार के दौरान 50,058.42 तक चढ़ा जबकि सेंसेक्स का निचला स्तर 49,440.46 रहा।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी भी बीते सत्र से 173.35 अंकों की तेजी के साथ 14,702.50 पर खुला और दिनभर के कारोबार के दौरान 14,806.80 तक उछला जबकि इसका निचला स्तर 14,638.55 रहा।

बीएसई मिडकैप सूचकांक बीते सत्र से 291.68 अंकों यानी 1.46 फीसदी की तेजी के साथ 20,270.33 पर बंद हुआ जबकि स्मॉलकैप सूचकांक बीते सत्र से 323.74 अंकों यानी 1.61 की तेजी के साथ 20,479.09 पर ठहरा।

सेंसेक्स के 30 शेयरों में सिर्फ एक भारती एयरटेल (4.45 फीसदी) गिरावट के साथ बंद हुआ जबकि बाकी सभी 29 शेयरों में तेजी रही।

सेंसेक्स के सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच शेयरों में पावरग्रिड (5.94 फीसदी), ओएनजीसी (5.40 फीसदी), अल्ट्राटेक सीमेंट (4.30 फीसदी),एशियन पेंट (3.76 फीसदी) और कोटक बैंक (3.53 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के 19 सेक्टरों में सिर्फ एक टेलीकॉम सेक्टर का सूचकांक (3.41 फीसदी) गिरावट के साथ बंद हुआ।

बाकी सभी 18 सेक्टरों के सूचकांक बढ़त के साथ बंद हुए जबकि सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच सेक्टरों में आधारभूत सामग्री (2.91 फीसदी), युटिलिटीज (2.49 फीसदी), ऑटो (2.32 फीसदी), धातु (2.08 फीसदी) और कंज्यूर डिस्क्रेशनरी गुड्स एंड सर्विसेज (2.07 फीसदी) शामिल रहे।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img