25.9 C
Ranchi
Sunday, May 9, 2021

भारतीय टैबलेट बाजार 2020 में 6 फीसदी बढ़ा, लेनोवो रहा शीर्ष पर

spot_img

नई दिल्ली: कोरोनावायरस महामारी के कारण घर से काम (वर्क फ्रॉम होम) और ऑनलाइन शिक्षा में इजाफा होने के कारण भारतीय टैबलेट बाजार में 2020 में छह प्रतिशत (साल-दर-साल) वृद्धि हुई है और लेनोवो 39 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ बाजार में अग्रणी रहा है।

साइबरमीडिया रिसर्च (सीएमआर) की गुरुवार को जारी एक नई रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।

साल 2020 के लिए सीएमआर की टैबलेट पीसी मार्केट रिपोर्ट रिव्यू में बताया गया है कि लेनेवो ने सैमसंग को पीछे छोड़ते हुए बाजार में शीर्ष स्थान पर कब्जा किया है।

इसने पिछली 14 तिमाहियों में टैबलेट बाजार में लगातार अच्छा प्रदर्शन किया। लेनोवो टैब एम 10 (एचडी) सीरीज ने 10 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी हासिल की है।

सैमसंग मार्केट लीडरबोर्ड में 30 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी के साथ दूसरे स्थान पर रही।

सैमसंग ने 2020 में कई टैबलेट लॉन्च किए, जिनमें टैब ए 7 एलटीई और वाईफाई वर्जन, टैब एस7, एस7 प्लस और एस6 लाइट शामिल हैं।

सैमसंग की ओर से लॉन्च किए गए सभी टैबलेट के अलावा, टैब ए 7 एलटीई और वाईफाई सबसे सफल रहे और सैमसंग टैबलेट पोर्टफोलियो में इसकी 13 प्रतिशत हिस्सेदारी दर्ज की गई।

एनालिस्ट-इंडस्ट्री इंटेलिजेंस ग्रुप (आईआईजी), सीएमआर, मेनका कुमारी ने कहा, महामारी के कारण वर्क फ्रॉम होम और लर्निग फ्रॉम होम (एलएफएच) के कारण पैदा हुए अवसरों और मांग ने साल 2020 में भारतीय टैबलेट उद्योग में एक मजबूत बढ़त बनाई है।

उन्होंने कहा कि इसका अलावा त्योहारी सीजन के दौरान भी रोमांचक डील्स के कारण भारतीय टैबलेट बाजार को और बढ़ावा मिला।

रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड-19 महामारी के कारण अनिश्चितता बनी हुई है और इस बीच तकनीकी दिग्गज एप्पल के पास अपने टैबलेट बाजार में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने का अच्छा मौका है।

शिक्षा क्षेत्र और डिजिटल परिवर्तन के साथ इस वर्ष की दूसरी तिमाही में टैबलेट की मांग बढ़ने की उम्मीद है।

आज की हर ख़बर

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here