35 C
Ranchi
Sunday, April 18, 2021
- Advertisement -

हजारीबाग में वार्ता के बाद झारखंड छात्र मोर्चा की विनोबा भावे विश्वविद्यालय में तालाबंदी हुई समाप्त

- Advertisement -

हजारीबाग: झारखंड छात्र मोर्चा की 10 सूत्री मांगों को लेकर विनोबा भावे विश्वविद्यालय में अनिश्चितकालीन तालाबंदी शुक्रवार को कुलपति डॉ मुकुल नारायण देव के साथ हुई वार्ता के बाद समाप्त हुआ।

मोर्चा नेता दस सूत्री मांगों को पूरा करने को लेकर अड़े थे। कुलपति डॉ देव ने कहा कि छात्र हित की मांग जल्द पूरी की जाएगी।

उन्होंने छह माह के अंदर कई मांगों को पूरा कर लिए जाने का आश्वासन दिया। यह अलग बात है कि रुसा के समन्वयक, एमबीए निदेशक एवं यूसेट के निदेशक को हटाए जाने की मांग को कुलपति डॉ देव ने नकार दिए जाने की बात कही।

ये भी पढ़ें : -  कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी हुई कोरोना पॉजिटिव
ये भी पढ़ें : -  कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी हुई कोरोना पॉजिटिव

उन्होंने कहा कि आने वाले समय में प्रक्रिया के तहत नए निदेशक को नियुक्त करने का कार्य किया जा सकता है।

विश्वविद्यालय में लगे सीसीटीवी को दुरुस्त करने, विश्वविद्यालय की विभिन्न व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में निविदा के आधार पर कार्यरत कर्मियों में एकरूपता लाने सहित कई मांगों को लेकर झारखंड छात्र मोर्चा के नेता पिछले चार दिनों से प्रशासनिक भवन में तालाबंदी कर बैठे हुए थे।

ये भी पढ़ें : -  रिम्स सहित कई अस्पतालों में हुई ऑक्सीजन की सप्लाई

इस दौरान विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन में एक भी कामकाज नहीं हो सका था।

प्रतिदिन सैकड़ों छात्र और उनके परिजन बाहर से आकर अपने काम न होने के कारण वापस लौट रहे थे।

जिला प्रशासन की मौजूदगी के बीच कुलपति डॉ देव व विश्वविद्यालय के अन्य अधिकारियों के समक्ष हुई वार्ता के बाद मोर्चा का अनिश्चितकालीन तालाबंदी समाप्त हुआ।

तालाबंदी समाप्त होने से विश्वविद्यालय प्रशासन ने राहत की सांस ली है।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img