25 C
Ranchi
Monday, May 17, 2021

झारखंड : जोरदार आवाज के साथ हुआ विस्फोट, जहरीली गैस और धुएं से मची अफरा-तफरी

spot_img
- Advertisement -

धनबाद: झरिया स्थित लोदना क्षेत्र संख्या 10 के नॉर्थ तिसरा परियोजना में शुक्रवार को जोरदार विस्फोट के साथ माइंस से जहरीली गैस एवं धुंआ का भारी मात्रा में रिसाव होने लगा।

इससे आस पास के इलाकों में अफरा-तफरी मच गई। जहरीली गैस और धुवा निकलने से लोगों को सांस लेने में परेशानी हो रही है। वहीं बीसीसीएल प्रबंधन की मुश्किलें बढ़ गई हैं।

- Advertisement -

घटना को लेकर लोदना क्षेत्र के अपर महाप्रबंधक पीके मिश्रा, परियोजना पदाधिकारी पंकज कुमार प्रबंधक डीके माजी, सुरक्षा अधिकारी ईश्वर प्रसाद व्यूप्वाइंट पहुंचे, जहां से निकलती धुआं और आग को देखा।

- Advertisement -

तत्काल आग की रोकथाम के लिए उसके ऊपर परियोजना का ओबी पत्थर गिराना प्रारंभ किया गया।

प्रबंधन ने चेक पोस्ट के समीप डोजरिंग का कार्य प्रारंभ करवाया।

- Advertisement -

इसके साथ ही आस पास खड़े वाहनों एवं मशीनों को बीसीसीएल प्रबंधन द्वारा हटा दिया गया है। प्रबंधन ने बताया कि पहले सुरक्षा जरूरी है।

मजदूरों को सुरक्षित कर लें, इसके बाद आग को पूरी तरह खत्म किया जाएगा।

प्रबंधन की प्लानिंग है कि ऊपर से बोर हॉल कटिंग किया जाए। इस क्षेत्र में जो कोयला जल रहा है उसको काटकर हटाएंगे।

आग को पूरी तरह साफ किया जाएगा। प्रबंधन ने बताया कि सुरक्षा समिति के साथ बैठक भी की जाएगी और इस विषय पर चर्चा कर स्थाई समाधान निकाला जाएगा।

गौरतलब है कि पिछले सात अप्रैल को भी इस स्थान पर ऐसी ही घटना देखी गई थी। उस वक्त बीसीसीएल के डायरेक्टर टेक्निकल ने मौके पर पहुंचकर उसके ऊपर ओवी और पत्थर डालने का निर्देश दिया था।

तीन दिन तक चले उस ऑपरेशन के बाद यह आग और धुंए पर काबू पाया गया था।

लेकिन अब दूसरी ओर से विस्फोट होकर धुआं और गैस निकलने लगा है। मजदूरों का कहना है कि यही स्थिति रही तो तीन सिम का 52 फीट कोयला जल कर राख हो जाएगा।

गैस रिसाव और धुंआ से हाजिरी घर एमओसी पी बंगाली कोठी गोकुल पार्क आदि क्षेत्रों पर खतरा मंडरा रहा है।

जिधर का हवा होता है उधर तेजी से गैस एवं धुआं जा रहा है।

लोगों ने तत्काल ठोस उपाय करने की मांग की है। झारखंड कोलियरी मजदूर यूनियन के सचिव उमाशंकर प्रसाद ने बताया कि इसका ठोस पहल होना चाहिए बार-बार भराई करने से दूसरे जगह आग फेंक देता है।

इसलिए ड्रिलिंग करके पंचर करना चाहिए ताकि आग समाप्त हो और देश की ऊर्जा को बचाया जा सके।

बीसी के यू के फागु नापित ने कहा कि यदि पूर्व में बालू भराई होती तो आज ये स्थिति नहीं होती।

पूर्व में बालू भरआई के नाम पर जो घोटाला हुआ उसकी जांच हो और दोषी अधिकारी पर कार्रवाई हो।

- Advertisement -

Related posts

रांची के इस सब्जी मंडी को किया गया सील, डेलीमार्केट में सोशल डिस्टेंसिंग के लिए बनाया गया घेरा

रांची: सुखदेवनगर नगर थाना के बगल में स्थित मधुकम, खादगढ़ा सब्जी मंडी में स्वास्थ्य सुरक्षा...

रांची में आज फिर से हुआ बवाल, तीन थानों की पुलिस ने संभाला मोर्चा

रांची: राजधानी रांची के डोरंडा में शनिवार को हुए घटना को लेकर आज फिर लोग...

रांची के इस अस्पताल में ब्लैक फंगस से हुई आज एक और मौत,10 से अधिक मरीजों का मेडिका और रिम्स में चल रहा इलाज

रांची: झारखंड में भी ब्लैक फंगस जानलेवा होता जा रहा है। रविवार को राजधानी रांची...

सीएम हेमंत सोरेन ने चेशायर होम व नंदराज वृद्ध आश्रम पहुंचे, मिलने वाली सुविधाओं से हुए अवगत

रांची: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन रविवार को बरियातू रोड रांची स्थित चेशायर होम तथा नंदराज वृद्ध...
spot_img
spot_img

Most popular