36 C
Ranchi
Wednesday, April 14, 2021
- Advertisement -

किसान आंदोलन : भारत बंद, हरियाणा पुलिस अलर्ट पर

- Advertisement -

चंडीगढ़: केंद्रीय कृषि कानूनों को रद्द कराने की मांग को लेकर किसान संगठनों की ओर से 8 दिसम्बर मंगलवार को भारत बंद का ऐलान किया गया है।

किसान संगठनों के ऐलान को देखते हुए हरियाणा पुलिस पूरी तरह अलर्ट पर है। प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज कोरोना संक्रमित होने के बावजूद भी भारत बंद के मद्देनजर तमाम प्रबंधों की जानकारी ले रहे हैं।

अनिल विज ने हरियाणा के साथ लगते सभी प्रदेशों की सीमाएं सील करने के निर्देश दिए हैं। प्रदेश में 60 हजार पुलिस कर्मी व होमगार्ड के जवान नाकों पर मुस्तैद रहेंगे तो दंगा निरोधक वाहन भी तैनात किए जाएंगे।

केंद्रीय कृषि कानूनों को लेकर केंद्र सरकार और किसान संगठनों के बीच गतिरोध खत्म नहीं हो रहा है। किसान संगठनों की ओर से 8 दिसम्बर को भारत बंद का आह्वान किया गया है।

भारत बंद को राजनीतिक दलों ने भी समर्थन दिया है। खासकर हरियाणा में कांग्रेस पार्टी ने बंद का समर्थन किया है। लिहाजा राजनीतिक दलों के समर्थन को देखते हुए प्रदेश में कानून व्यवस्था का जिम्मा संभाल रहे गृह मंत्री अनिल विज ने पुलिस को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं।

अनिल विज ने कहा कि किसी भी कानून को हाथ में नहीं लेने दिया जाएगा। धरना देने व प्रदर्शन करने का सबसे हक है, किसान संगठनों की ओर से भारत बंद का आह्वान किया गया है। भारत बंद में किसी प्रकार की अप्रिय घटना न हो, इसको लेकर पुलिस को अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं।

धरना स्थलों पर लगाए जाएंगे मेडिकल हेल्प कैंप

हरियाणा में सिंघु व टीकरी बॉर्डर पर किसानों की तीन कृषि कानूनों के खिलाफ मोर्चाबंदी जारी है। लिहाजा किसानों की भीड़ को देखते हुए प्रदेश के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए हैं, जहां किसान धरना दे रहे हैं, वहां सभी जगहों पर मेडिकल हेल्थ कैंप लगाए जाएं।

धरना स्थलों पर चिकित्सकों की टीम, एंबुलेंस तथा तमाम अन्य स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाई जाएंगी। हालांकि पहले दिन से ही रेडक्रॉस की ओर से किसानों के स्वास्थ्य की जांच का काम जारी है, अब स्वास्थ्य विभाग की टीम भी मौजूद रहेगी।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img