34 C
Ranchi
Friday, April 16, 2021
- Advertisement -

पूरा विश्व त्राहिमाम कर रहा है, फिर भी केंद्र सरकार झारखंड के हिस्से की राशि देने में कर रही आनाकानी: आलोक दूबे

- Advertisement -

खूंटी: राज्य सरकार के एक वर्ष पूरे होने पर 29 दिसंबर को कांग्रेस श्वेत पत्र को जारी करेगी। इसमें राज्य सरकार और कांग्रेस संगठन की उपलब्धियाें का जिक्र किया जाएगा।

कोरोना महामारी के दौर में जब पूरा विश्व त्राहिमाम कर रहा है, तब केंद्र सरकार झारखंड के हिस्से की राशि देने में आनाकानी कर रही है। उक्त बातें प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने कहीं।

पथ निर्माण विभाग के निरीक्षण भवन में रविवार को आयाेजित संवाददाता सम्मेलन में आलोक ने कहा कि हेमंत सरकार के एक वर्ष के कार्यकाल में पूरे प्रदेश में एक भी व्यक्ति भूख से नहीं मरा।

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में केंद्र सरकार ने पेट्रोल व डीजल के दामाें में 16 रुपये तक की वृद्धि कीए जिसका सीधा असर जनता पर पड़ रहा है। भाजपा को भी श्वेत पत्र जारी कर कोरोना काल में राज्य में किए गए कार्यो की जानकारी देनी चाहिए।

वैश्विक महामारी के बीच झारखंड सरकार ने कई उपलब्धियां हासिल की है। राज्य में कोई भूखा ना सोये इसकी पूरी व्यवस्था सरकार ने की थी। सभी को राशनए आश्रय स्थलए दीदी कीचन और थानों में भोजन की व्यवस्था की।

वहीं भाजपा के 12 सांसद व 25 विधायक पत्र लिखने में ही व्यस्त रहे। इस दौरान पार्टी ने सभी जिलों में आलीशान कार्यालय भी बनवाए। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि राज्य सरकार एक दिसंबर से धान की खारीदारी शुरू की है।

किसानों को उनकी फसल का उचित कीमत मिले, सरकार इसके लिए तत्पर है। उन्होंने कहा कि धान खरीद पर कहीं रोक नहीं है।
कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता लालकिशोर नाथ शाहदेव ने कहा कि वर्ष 2021 राज्य के विकास व रोजगार का वर्ष होगा।

सरकार ने एक वर्ष के कार्यकाल में ग्रामीण विकास विभाग के माध्यम से दस लाख लोगों को रोजगार दिया जायेगा। राज्य सरकार ने अपनी घोषणा के अनुसार किसानों की कर्ज माफी के लिए कार्रवाई शुरू कर दी है।

पहले चरण में इसके लिए दो हजार करोड़ रुपये आवंटित किए जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि 20 वर्षों में पहली बार झारखंडवासियाें की सरकार बनी है। सरकार लोगों का भरोसा टूटने नहीं देगी।

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता डाॅ राजेश गुप्ता ने कहा कि देश का पेट भरने वाले किसान क्रूर शासक के कारण सड़क पर हैं। केंद्र सरकार के तीन काला कानून के विरोध में सड़क पर उतरे किसानों पर सरकार लाठियां बरसा रही है।

मौके पर कांग्रेस नेताओं ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता सुरेंद्र कुमार मिश्र के निधन पर शोक व्यक्त किया और इसे पार्टी के लिए अपूरणीय क्षति बताया। बाद में कांग्रेस नेता स्वा सुरेंद्र मिश्र के घर गये और शोक संतप्त परियार को सांत्वना दी।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img