30 C
Ranchi
Friday, April 16, 2021
- Advertisement -

किसान यात्रा की जिद पर अड़े सपा मुखिया अखिलेश यादव हिरासत में

- Advertisement -

लखनऊ: किसान यात्रा में शामिल होने कन्नौज जा रहे समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को सोमवार को राजधानी लखनऊ में पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। उन्हें ईको गार्डेन ले जाया गया है।

इसके पहले अखिलेश यादव लखनऊ स्थित घर से कन्नौज में प्रस्तावित किसान यात्रा में शामिल होने के लिए निकले तो पुलिस ने उनके गाड़ियों का काफिला रोक दिया, जिसके बाद अखिलेश यादव पैदल ही चल पड़े।

उन्हें आगे बढ़ने से रोका गया तो वह सड़क पर ही धरने पर बैठ गए, जिस पर पुलिस ने धारा 144 के उल्लंघन पर उन्हें हिरासत में ले लिया।

अखिलेश ने कहा कि जब किसान धरने पर बैठ सकते हैं तो मैं क्यों नहीं बैठ सकता। मेरा कन्नौज जाने का कार्यक्रम था। मुझे पुलिस के दम पर वहां नहीं जाने दिया जा रहा है।

करीब 45 मिनट तक धरना देने के बाद सपा प्रमुख अखिलेश यादव को हिरासत में ले लिया गया। इसके साथ ही अखिलेश यादव ने लोकसभा अध्यक्ष को विशेषाधिकार हनन का नोटिस भी दिया है।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव बंदरियाबाग चौराहे पर सड़क के बीच में धरने पर बैठे। उन्होंने कहा कि भाजपा ने कोरोना वायरस को एक बहाना बनाया है।

भाजपा के लिए किसी भी कार्यक्रम को आयोजित करने के लिए कोरोना वायरस कहीं पर भी नहीं है, लेकिन विपक्ष अगर कहीं पर भी कुछ करता है तो सरकार कोरोना का बहाना बना लेती है।

अब तो यह सरकार भरपूर तानाशाही कर रही है। हर जगह पर पुलिस के दम पर हमें रोका जा रहा है। अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार लोकतंत्र का गला घोंट रही है। सरकार किसानों की नहीं सुन रही है। किसान, गरीब, मजदूर सब परेशान हैं।

इससे पहले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को लखनऊ में विक्रमादित्य मार्ग पर उनके आवास में ही नजरबंद किया गया था।

अखिलेश यादव के आवास के साथ ही विक्रमादित्य मार्ग पर सपा कार्यालय को भी बैरिकेडिंग लगाकर सील कर दिया गया था। गौतम पल्ली थाना की फोर्स के साथ ही लखनऊ के अन्य थाना क्षेत्र की फोर्स को अखिलेश यादव के आवास के पास में तैनात किया गया।

अखिलेश यादव से मिलने उनके आवास पर जा रहे रहे पार्टी के दो एमएलसी उदयवीर सिंह तथा राजपाल कश्यप को भी पुलिस ने सड़क पर ही रोक दिया।

दोनों नेताओं ने अपना परिचय देने के साथ ही अपना आई कार्ड भी दिखाया, इसके बावजूद भी उन्हें रोका गया।

एमएलसी राजपाल कश्यप और आशु मलिक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पार्टी ऑफिस में जाने के लिए पुलिस से धक्का-मुक्की के बाद दोनों को हिरासत में लिया गया।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img