34 C
Ranchi
Friday, April 16, 2021
- Advertisement -

भोपाल में कांग्रेस कार्यकर्ता किसानों के समर्थन में सड़क पर उतरे

- Advertisement -

भोपाल: केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ बुलाए गए भारत बंद को कांग्रेस ने समर्थन दिया और मध्य प्रदेश की राजधानी में कांग्रेस नेता, पूर्व केंद्रीय मंत्री और पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव की अगुवाई में कांग्रेस कार्यकर्ता सकड़ों पर उतरे। यादव ने केंद्र सरकार को किसान विरोधी करार दिया।

राजधानी भोपाल के रोशनपुरा चौराहे पर कांग्रेस द्वारा भारत बंद का समर्थन किया गया। इस कार्यक्रम में पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारत कृषक समाज के प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रपति के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंपा।

अरुण यादव ने कहा है कि, जो किसान बिल लाए गए हैं, वह पूरी तरह से किसान विरोधी हैं। कांग्रेस हमेशा किसानों के साथ खड़ी है और किसानों के हक के लिए कुछ भी करने के लिए तैयार है।

यह देश का आंदोलन है। देश का अन्नदाता आंदोलन कर रहा है। यह तीनों कानून किसान विरोधी हैं, इसके विरोध में देश का अन्नदाता आंदोलन कर रहा है।

कांग्रेस पार्टी पूरी तरह से इस आंदोलन का समर्थन करती है, जब तक केंद्र सरकार यह काले कानून वापस नहीं लेती है, तब तक हमारा समर्थन इस आंदोलन को जारी रहेगा।

उन्होंने आगे कहा कि, तीनों बिल में किसानों के हित की कोई भी बात नहीं है, अगर आप इन कानूनों का अध्ययन करेंगे तो पता चलेगा कि एक भी प्रावधान इसमें किसान के हित में नहीं है, जो भी प्रावधान इन कानूनों में किए गए हैं, वह अडानी और अंबानी के हित में किए गए हैं।

इसमें किसानों के हित में कुछ भी नहीं है। अगर प्रधानमंत्री किसानों के सच्चे हितैषी हैं, तो वह किसानों से क्यों चर्चा नहीं कर रहे हैं।

पांच बार बैठक हो चुकी है, मगर कोई भी नतीजा नहीं निकला है। सरकार की नियत खराब है और सरकार किसानों के हित में बात ही नहीं करना चाहती है।

यादव ने आगे कहा कि, जब जब कांग्रेस सरकार में रही है, तो हमने किसानों के हित में योजनाएं बनाई हैं।

मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार ने थोड़े से समय में 11 हजार 600 करोड़ की कर्ज माफी का फायदा 27 लाख किसानों को दिया है। आगे भी किसानों के हित में कांग्रेस की लड़ाई जारी रहेगी।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img