30 C
Ranchi
Friday, April 16, 2021
- Advertisement -

दिल्ली पुलिस ने प्रवेश मार्गो पर चेकिंग बढ़ाई

- Advertisement -

नई दिल्ली: भारत बंद के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी में विभिन्न प्रवेश मार्गो पर अपनी निगरानी तेज कर दी है।

राजधानी में वाहनों के प्रवेश को रोकने और जांचने के लिए कई चेक पोस्टों पर बैरिकेड लगाए गए हैं। पंजाब और हरियाणा पंजीकरण संख्या वाले वाहनों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

अर्धसैनिक प्लाटून के साथ दिल्ली पुलिस को राजधानी में विभिन्न जांच चौकियों पर पहरा देते देखा गया। सुरक्षा व्यवस्था की निगरानी के लिए वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौजूद थे।

शहर के पुलिस बल ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि सड़कों पर कोई व्यवधान या वाहनों को जबरदस्ती रोकने की अनुमति नहीं होगी।

दिल्ली पुलिस पीआरओ ईश सिंघल ने कहा, जो लोग आम जनजीवन को बाधित करते देखे जाएंगे उनसे कानून के अनुसार सख्ती से निपटा जाएगा।

दिल्ली पुलिस हर किसी से अपील करती है कि वे आम नागरिकों और दिल्ली के निवासियों के जनजीवन को बाधित न करें।

दिल्ली पुलिस ने प्रस्तावित भारत बंद के मद्देनजर सड़कों पर लोगों के सामान्य आवागमन को सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त व्यवस्था की है।

नई दिल्ली जिले में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की गई है। जिले में प्रवेश करने वाले सभी वाहनों, जहां प्रमुख सरकारी कार्यालय और संसद भवन हैं, को जिले में जाने वाले प्रत्येक प्रवेश मार्ग पर जगह-जगह कई बैरिकेडिंग लगाकर चेक किया जा रहा है।

संसद द्वारा बिल पास किए जाने के बाद अगली सुबह किसानों ने नए कृषि कानूनों के बारे में अपना इरादा स्पष्ट कर दिया था, जब राजधानी में इंडिया गेट के पास एक ट्रैक्टर जला दिया गया था। कृषि समुदाय के एक बड़े हिस्से का मानना है कि नए कानून उनकी आजीविका को बर्बाद कर देंगे।

दिल्ली पुलिस ने वाहनों और यात्रियों के सुचारु रूप से आवागमन के लिए ट्रैफिक एडवाइजरी भी जारी की है।

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने सोमवार को कहा कि सिंघु, औचंदी, प्याऊ मनियारी, मंगेश, टिकरी और झारोदा और धनसा सीमाएं बंद हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग-44 को भी दोनों तरफ से बंद कर दिया गया है।

यात्रा करने वालों को लामपुर, सफियाबाद और सबोली सीमाओं के माध्यम से वैकल्पिक मार्ग लेने का सुझाव दिया गया है।

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने कहा कि मुकरबा और जीटीके रोड से ट्रैफिक को भी डायवर्ट किया गया है।

हरियाणा के लिए उपलब्ध खुली सीमाएं दौराला, कापसहेड़ा, राजोखरी एनएच-8, बिजवासन, बजघेरा, पालम विहार और डूंडाहेड़ा सीमाएं हैं।

हालांकि, बडुसराय सीमा केवल कार और दोपहिया वाहनों जैसे हल्के मोटर वाहनों के लिए खुली है और झटीकरा सीमा केवल दोपहिया वाहनों के आवागमन के लिए खुली है।

भारत बंद के दौरान मंगलवार को भी एनएच 8 खुला है। नोएडा को दिल्ली से जोड़ने वाला डीएनडी भी खुला है। करनाल बाईपास पर ट्रैफिक सामान्य है, जो दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बॉर्डर की ओर जाता है, जहां किसान पिछले 13 दिनों से केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं।

एनएच 24 पर गाजीपुर की सीमा किसानों के विरोध के कारण गाजियाबाद से दिल्ली तक यातायात के लिए बंद है। लोगों को दिल्ली में प्रवेश के लिए एनएच 24 से बचने और दिल्ली आने के लिए अप्सरा, भोपरा, डीएनडी का उपयोग करने की सलाह दी गई है।

दिल्ली पुलिस उत्तर प्रदेश और हरियाणा जैसे सीमावर्ती राज्यों की पुलिस के साथ करीबी समन्वय में भी काम कर रही है, ताकि पूर्वाह्न 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक देशव्यापी बंद के आह्वान के मद्देनजर बेहतर समन्वित प्रयास किए जा सकें।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img