37 C
Ranchi
Wednesday, April 14, 2021
- Advertisement -

खूंटी में नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म मामले में पुलिस ने किया तीन को गिरफ्तार, दो नाबालिग निरूद्ध

- Advertisement -

न्यूज़ अरोमा खूंटी: पुलिस ने कर्रा थाना क्षत्र में 30 नवंबर को एक नाबालिग बच्ची के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म के मामले का खुलास करते हुए तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।

सामूहिक दुष्कर्म में दो नाबालिग किशोर भी शामिल हैं, जिन्हें पुलिस ने निरूद्ध किया है। इस संबंध में पुलिस मुख्यालय में बुधवार को आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में एसपी आशुतोष शेखर ने बताया कि गिरफ्तार किये गये आरेापितों में अनिल परधिया(24), आशीष परिधिया (22) और अजय धान (19) सभी रोलागुटू साकेटोली निवासी) शामिल हैं।

एसपी ने बताया कि घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल और स्कूटी व घटना के दौरान अभियुक्त द्वारा पहना गया जैकेट भी पुलिस ने बरामद कर लिया। एसपी ने कहा कि मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा है।

उक्त नाबालिग लड़की का गिरफ्तार एक अभियुक्त से प्रेम प्रसंग चल रहा था। बीच में उस लड़की ने दूसरे अन्य युवकों के साथ दोस्ती कर ली।

इसको लेकर बदले की भावना से गिरफ्तार अभियुक्तों ने 30 नवंबर को उक्त नाबालिग लड़की का उस समय रोन्हे के मोड़मा से अपहरण कर लिया, जब पीड़िता पदृमपुर मेला देखकर अपनी सहेलियों के साथ घर लौट रही थी।

अभियुक्तों ने जंगल में उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था।

एसपी ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए उन्होंने अपने निर्देशन में विशेष जांच दल(एसआइटी) का गठन किया था।

इसमें तोरपा के एसडीपअीओ ओम प्रकाश तिवारी, तोरपा के पुलिस इंसपेक्टर दिग्विजय सिंह, मारंगहादा अंचल के पुलिस इंस्पेक्टर राजेश रजक, कर्रा थाना प्रभारी मुन्ना कुमार सिंह, एसआई महेंद्र कुमार, परिक्ष्यमान एसआई बलराम कुमार सिंह, लालजीत उरांव, निशांत केरकेट्टा, मनोज तिर्की, उत्तम कुमार, श्रीकांत कुमार, सुधीर कुमार, नंदकिशोर सिंह, संदीप कुमार, दुलारमनी टूडू, विश्वजीत ठाकुर और पुष्पराज शामिल थे।

बच्चों की गतिविधियों पर ध्यान रखें अभिभावक: आशुतोष शेखर

एसपी आशुतोष शेखर ने कहा कि इस तरह की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए समाज के हर व्यक्ति को आगे आना होगा। उन्होंने कहा कि इसमें सबसे बड़ी भूमिक माता-पिता और अभिभावकों की हो सकती है।

उन्होंने मीडिया के माध्यम से अभिभावकों से अपील कि वे अपने बच्चों की गतिविधियों पर ध्यान रखें।

अभिभावक इस बात का ध्यान रखें कि कहीं बच्चा मोबाइल का दुरुपयोग तो नहीं कर रहा है और वह किस तरह के लोगों के साथ रहता है।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img