34 C
Ranchi
Friday, April 16, 2021
- Advertisement -

झारखंड पुलिस का रिश्वतखोर पुलिस इंस्पेक्टर नरेश कुमार रिश्वत लेते गिरफ्तार, पीड़ित व्यक्ति ने की थी शिकायत

- Advertisement -

न्यूज़ अरोमा लातेहार: पलामू निगरानी की टीम ने मनिका थाना में पदस्थापित पुलिस इंस्पेक्टर नरेश कुमार को सात हजार रुपए रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ लिया।

इंस्पेक्टर मनिका निवासी लक्ष्मण सिंह से मारपीट के एक मामले में अपने कार्यालय परिसर में ही रिश्वत ले रहे थे।

जानकारी के अनुसार मनिका में कुछ दिन पहले मारपीट हुई थी। इसमें 2 लोग घायल हो गए थे। इस घटना के बाद मनिका थाना में प्राथमिकी दर्ज करवाई गई थी।

उधर पहले पक्ष के द्वारा प्राथमिकी के बाद दूसरे पक्ष के द्वारा भी काउंटर केस कर दिया गया था।

पूरे मामले की जांच इंस्पेक्टर नरेश कुमार ही कर रहे थे।

मामले में केस करने वाले लक्ष्मण सिंह का आरोप था कि दूसरे पक्ष ने मनगढ़ंत केस किया है। ऐसे में पुलिस पूरे मामले की निष्पक्ष जांच करें और दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करें।

लेकिन इंस्पेक्टर नरेश कुमार मामले मे कार्रवाई के लिए 10 हजार रुपए मांग रहे थे। काफी कहने के बावजूद भी जब इंस्पेक्टर रिश्वत लेने पर अड़े रहे तो लक्ष्मण सिंह ने मामले की शिकायत पलामू निगरानी की टीम से कर दी।

लक्ष्मण सिंह के द्वारा लगाए गए आरोप की पुष्टि के लिए निगरानी की टीम अपने स्तर से मामले की जांच की।

उसके बाद रिश्वत मांग रहा है इंस्पेक्टर नरेश कुमार को पकड़ने की योजना तैयार की गई। शुक्रवार को निगरानी की टीम लक्ष्मण सिंह को 7 हजार रुपए देकर इस्पेक्टर के पास भेजा।

इंस्पेक्टर ने लक्ष्मण सिंह को अपने कार्यालय परिसर में ही बुलाया। लक्ष्मण सिंह ने जैसे ही इंस्पेक्टर को पैसे दिए वैसे ही निगरानी की टीम वहां पहुंची और इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर ली।

गिरफ्तार इंस्पेक्टर को निगरानी की टीम अपने साथ पलामू ले गई। वहां से उन्हें जेल भेजा जाएगा।

पूरे मामले की जांच के बाद निगरानी की टीम को जब सबूत मिल गया कि इंस्पेक्टर के द्वारा जांच के लिए पैसे की मांग की जा रही है तो टीम ने इंस्पेक्टर को दबोचने का प्लान बनाया।

इसके बाद वादी को ₹7000 देकर निगरानी की टीम ने इंस्पेक्टर के पास भेजा।

इंस्पेक्टर नरेश कुमार अपने कार्यालय में ही पैसे ले लिए।

जैसे ही इंस्पेक्टर ने पैसे लिए वैसे ही निगरानी की टीम उन्हें धर दबोचा। निगरानी की टीम उन्हें हिरासत में लेकर पलामू ले गई है, जहां उन्हें न्यायिक हिरासत में भेजा जाएगा।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img