37 C
Ranchi
Wednesday, April 14, 2021
- Advertisement -

बिहार में आपराधिक मामलों में वृद्धि नीतीश सरकार की विफलता

- Advertisement -

पटना: बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सरकार पर निशाना साधते हुए, राज्य कांग्रेस एमएलसी प्रेम चंद्र मिश्रा ने गुरुवार को कहा कि राज्य में बढ़ती अपराध दर सत्तारूढ़ सरकार की विफलता दिखाती है।

मिश्रा ने कहा कि राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति में सुधार के लिए एक पूर्णकालिक गृह मंत्री होना चाहिए।

वर्तमान में, नीतीश कुमार ने अपने पास राज्य के गृह मंत्रालय का प्रभार रखा है।

बुधवार को मुख्यमंत्री ने दरभंगा जिले में एक दुकान से बंदूक की नोक पर करोड़ों रुपये के सोने के गहने लूटे जाने के बाद शीर्ष पुलिस और सिविल एडमिनिस्ट्रेशन के अधिकारियों के साथ मैराथन बैठक की थी।

मिश्रा ने कहा, सीएम अपने स्वयं के कार्यक्रम में व्यस्त हैं और इस वजह से वह राज्य में कानून और व्यवस्था की स्थिति में सुधार के लिए समय नहीं दे पा रहे हैं।

अपराध के मामलों में वृद्धि नीतीश सरकार की एक बड़ी विफलता है।

पुलिस हालात को नियंत्रित करने में विफल रही है।

उन्होने कहा, पिछले 15 दिनों में, राज्य में अपराध के ग्राफ में जबरदस्त वृद्धि देखी गई है, जिसमें दुष्कर्म हत्या और डकैती शामिल हैं।

ऐसा लगता है कि अपराधी पूरे राज्य में बदइंतजामी का फायदा अपराध करने के लिए उठा रहे हैं।

इससे पहले दरभंगा के भाजपा विधायक संजय सरावगी ने भी बिहार में बिगड़ती कानून व्यवस्था पर चिंता जताई थी।

बिहार भाजपा प्रमुख संजय जायसवाल पहले ही बिहार में कानून व्यवस्था पर चिंता व्यक्त कर चुके हैं।

एक सप्ताह पहले पश्चिम चंपारण जिले के ग्रामीणों के साथ बातचीत के दौरान, उन्होंने कहा था कि अपराध के मामलों को रोकने के लिए वह डीजीपी से बात करेंगे।

सूत्रों ने कहा है कि नीतीश कुमार सरकार में सहयोगी के रूप में भाजपा की निगाह गृह मंत्रालय के पोर्टफोलियो पर है।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img