34 C
Ranchi
Thursday, April 15, 2021
- Advertisement -

लालू प्रसाद की स्वास्थ्य बेहतरी के लिए पटना में हवन-पूजन

- Advertisement -

पटना: राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव चारा घोटाले से जुड़े मामले में जेल में सजा काट रहे है और उनकी तबीयत काफी नाजुक बनी हुई है।

लालू के स्वास्थ्य बेहतरी को लेकर बिहार में अब प्रार्थना का दौर शुरू हो चुका है।

लालू प्रसाद यादव की तबीयत किडनी में आई खराबी कारण बिगड़ गई है ऐसे में उनके स्वास्थ्य को लेकर समर्थक पूजा-पाठ कर रहे हैं।

इस कड़ी में मंगलवार को राजद कार्यकर्ताओं द्वारा पूजन एवं हवन का कार्यक्रम आयोजित किया गया है।

पूजा और हवन का कार्यक्रम पटना में शीतला मंदिर के प्रांगण में आयोजित किया गया है जिसमें लालू प्रसाद के स्वास्थ्य लाभ की कामना की जाएगी।

इस पूजा का आयोजन राजद से जुड़े कार्यकर्ताओं ने किया है। रांची में लालू का इलाज कर रहे डॉक्टरों का कहना है कि लालू की तबियत कभी भी बिगड़ सकती है। राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के डॉक्टर से लालू प्रसाद के स्वास्थ्य को लेकर बड़ा बयान दिया है।

रिम्स में लालू प्रसाद का इलाज कर रहे डॉक्टर ने दावा किया है कि राजद सुप्रीमो की तबियत कभी भी बिगड़ सकती है। राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के डॉ।

उमेश प्रसाद ने दावा किया है कि लालू प्रसाद यादव का किडनी फंक्शन कभी भी बिगड़ सकता है।

उनके स्वास्थ्य को लेकर कुछ भी कहना मुश्किल है। डॉक्टर का कहना है कि यह स्पष्ट रूप से खतरनाक है।

मैंने इसे अधिकारियों को लिखित रूप में दिया है।

मालूम हो कि झारखंड हाईकोर्ट ने चारा घोटाले से जुड़े एक मामले में लालू यादव की जमानज अर्जी पर सुनवाई 6 सप्‍ताह के लिए टाल दी है।

ऐसे में राजद प्रमुख को फिलहाल जेल में ही रहना होगा। जानकारी के अनुसार, लालू के वकील ने सप्‍लीमेंट्री एफिडेविट दाखिल करने के लिए अतिरिक्‍त समय की मांग की थी।

बता दें कि डोरंडा कोषागार से अवैध निकासी मामले में दोषी लालू यादव ने हाईकोर्ट में जमानत की अर्जी दाखिल की थी। लालू यादव पर चारा घोटाला से जुड़े कई मामले दर्ज हैं।

लालू यादव को चारा घोटाले से जुड़े तीन मामलों में पहले ही जमानत मिल चुकी है।

डोरंडा कोषागार निकासी मामले में सुनवाई के लिए 11 दिसंबर की तिथि तय की गई थी। जोकि अब आगे बढ़ा दी गई है। लालू यादव को जिन चार मामलों में सजा मिली है, उसके खिलाफ उन्होंने हाईकोर्ट में अपील की है।

इनमें से तीन मामलों में उन्‍हें जमानत दी जा चुकी है। गौरतलब है कि लालू प्रसाद को सभी मामलों में आधी सजा काटने के आधार पर जमानत दी गई है।

दुमका कोषागार मामले में भी उन्होंने इसी आधार पर जमानत मांगी है। साथ ही अपनी बीमारी का हवाला भी दिया है।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img