35 C
Ranchi
Sunday, April 18, 2021
- Advertisement -

रांची में शादी के अति उत्साह में दूल्हे ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, वीडियो वायरल होने के बाद FIR, अब गिरफ्तारी की है तैयारी

- Advertisement -

रांची: बरियातू थाना क्षेत्र स्थित आशीर्वाद बैंक्वेट हॉल में अपनी ही शादी में दूल्हे द्वारा ताबड़तोड़ हर्ष फायरिंग मामले में पुलिस को सीसीटीवी फुटेज हाथ लगी है।

 पुलिस इस फुटेज को साक्ष्य के तौर पर एकत्रित कर आरोपित की गिरफ्तारी की तैयारी कर रही है। दूल्हे द्वारा ताबड़तोड़ फायरिंग किए जाने की वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने सत्यापन के बाद बरियातू थाने में सोमवार की शाम एफआइआर दर्ज की है।

 जिसमें दूल्हा शौभीत सिंह व अज्ञात रायफलधारी को आरोपित बनाया गया है। आरोपित मोरहाबादी के लवण्या अपार्टमेंट का रहने वाला है।

क्या है मामला

जानकारी के अनुसार, बीते 13 दिसंबर की रात चिरौंदी स्थित आशीर्वाद बैंंक्वेट हॉल में शौभीत की शादी थी। जिसमें वह अति उत्साहित होकर अपराधिक घटना को अंजाम दे दिया।

ये भी पढ़ें : -  Jharkhand Lockdown : झारखंड में 15 दिन का लगेगा लॉकडाउन
ये भी पढ़ें : -  कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी हुई कोरोना पॉजिटिव

उसने रायफलधारी से रायफल ली और ताबड़तोड़ हवाई फायरिंग कर दी। पुलिस के अनुसार, इस फायरिंग से किसी को भी गोली लग सकती थी।

पहले भी जा चुका है जेल

जानकारी के अनुसार, शौभीत सिंह फ्रॉड मामले में जेल गया था। इसके अलावा कोतवाली इलाके के एक होटल में हुई बैचलर्स पार्टी में एक युवक की हत्या के मामले में चश्मदीद भी था।

संबंधित मामले में मृतक के पिता की ओर से साजिश का आरोप लगाया गया था।

 बरियातू थाने की पुलिस ने शौभीत को वारंट पर गिरफ्तार कर जेल भेजा था। इसके अलावा पंडरा के एक व्यवसायी की आत्महत्या मामले में भी शौभीत पर आरोप लगे थे। पंडरा ओपी में केस दर्ज करवाया गया था।

ये भी पढ़ें : -  रिम्स सहित कई अस्पतालों में हुई ऑक्सीजन की सप्लाई

वाट्सएप स्टेटस पर लगाया था फायरिंग का वीडियो 

बताया जा रही है कि दूल्हे ने फायरिंग से संबंधित वीडियो अपने ही वाट्सएप स्टेटस पर लगाई थी। उसी स्टेटस से लेकर वायरल की गई। जो वायरल होकर पुलिस तक पहुंच गई।

पुलिस के पास पहुंचने के बाद दूल्हे की परेशानी बढ़ गई। ताबड़तोड़ फायरिंग करना महंगा पड़ा गया।

ये भी पढ़ें : -  झारखंड : फायरिंग कर शहर में दहशत फैलाने वाले चार अपराधी गिरफ्तार

पुलिस यह पता लगा रही है कि जिस रायफल से फायरिंग की गई है वह लाइसेंसी है या अवैध है। लाइसेंसी रहने पर राइफल का लाइसेंस भी रद करने की अनुशंसा की जाएगी।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img