34 C
Ranchi
Thursday, April 15, 2021
- Advertisement -

रील लाइफ हीरो जो 2020 में बने रियल लाइफ हीरो!

- Advertisement -

मुंबई: देश में कोविड-19 महामारी के कारण साल 2020 सबसे कठिन वर्षो में से एक रहा। इस दौरान कुछ रील लाइफ हीरो रियल लाइफ हीरो बनकर उभरे।

कोविड वॉरियर्स बनने के लिए इन सितारों ने न केवल अपनी आवाज और स्टारडम का इस्तेमाल किया, बल्कि अपने संसाधनों का भी इस्तेमाल किया।

सोनू सूद- प्रवासी मजदूरों को अपने गृहनगर तक सुरक्षित लौटने के लिए परिवहन, आवास और एक हेल्पलाइन नंबर की व्यवस्था करके इन्होंने अपने आप में एक मिसाल पेश की।

कोरोनाकाल में अभिनेता हजारों प्रवासी श्रमिकों के लिए मसीहा बन गए। सोनू सूद ने चिकित्सा कर्मियों के रहने के लिए जुहू स्थित अपने होटल में बंदोबस्त किया और मुंबई में गरीबों के लिए नियमित रूप से भोजन की व्यवस्था भी की।

अभिनेता ने ट्विटर पर उनके और जनता के बीच संचार की लाइनें भी खोल दीं, ताकि वे उनके मुद्दों को जान सकें।

ऋतिक रोशन- प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री राहत कोष में एक बड़ी राशि दान करने के अलावा ऋतिक रोशन पुलिस अधिकारियों और बीएमसी कार्यकतरओ सहित कोविड-19 फ्रंट लाइनर्स को सुरक्षा के लिए जरूरी सामान मुहैया कराने में मदद करते रहे।

इनमें जोश व उत्साह समान बनाए रखने के लिए अभिनेता ने अपने सोशल मीडिया पर बैच ऑफ 2020 के लिए एक प्रेरक संदेश दिया।

इन सबके अलावा, वह सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग ट्रेन में यात्रा करने के खतरों के बारे में जागरूकता लाने के लिए भी किया।

ऋतिक रोशन मीडिया कर्मियों को वित्तीय सहायता देने वाले पहले व्यक्तियों में से थे और यहां तक कि उन्होंने सिने एंड टीवी आर्टिस्ट एसोसिएशन (सिन्टा) को भी अपना समर्थन दिया।

युवा सपनों को साकार करने के लिए ऋतिक ने एक महत्वाकांक्षी वंचित बैले डांसर को प्रायोजित किया और यहां तक कि 100 से अधिक डांसर्स के समर्थन में धन दान किया, जिनके पास काम नहीं था।

अक्षय कुमार- कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए निवारक और एहतियाती लॉकडाउन नियमों के बारे में स्टार सक्रिय रूप से जागरूकता फैलाते रहे।

अभिनेता ने पीएम-केयर्स फंड, मुंबई पुलिस फाउंडेशन, बीएमसी और सिन्टा सहित कई निधियों में अपना योगदान दिया।

अक्षय ने महामारी से प्रभावित लोगों के लिए धन जुटाने के लिए बॉलीवुड के सबसे बड़े धन संग्रह कार्यक्रम में भी भाग लिया।

सलमान खान- सलमान खान ने फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉइज (एफडब्ल्यूआईसीई) के 25,000 दैनिक वेतनभोगी कर्मियों को वित्तीय सहायता दी, जो ऑल इंडिया स्पेशल आर्टिस्ट एसोसिएशन (एआईएसएए) के सदस्य थे और इसके साथ उन्होंने कई स्पॉट बॉय की भी मदद की।

अपनी संस्था बीइग ह्यूमन के माध्यम से उन्होंने जरूरतमंदों को भोजन सामग्री पहुंचाने के लिए फूड ट्रक बीइग हंग्री की शुरूआत की। उन्होंने इस दौरान लोगों को अन्न दान करने के लिए भी प्रोत्साहित किया।

प्रभास- प्रभास ने आंध्र प्रदेश के सीएम रिलीफ फंड और तेलंगाना के सीएम रिलीफ फंड और कोरोना क्राइसिस चैरिटी (सीसीसी) को अतिरिक्त 50 लाख रुपये की राशि दान में दी, जिसके तहत तेलुगू सिनेमा के दैनिक वेतनभोगी कर्मियों और फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े श्रमिकों की मदद की जानी थी।

प्रभास ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष में भी 3 करोड़ का दान दिया है। प्रभास ने ईको-पार्क के लिए 2 करोड़ की विकास निधि के साथ तेलंगाना में 1650 एकड़ वन भूमि को भी अपने जिम्मे लिया है, जिसका नाम उनके दिवंगत पिता उप्पलपति सूर्य नारायण राजू के नाम पर रखा जाएगा।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img