32 C
Ranchi
Sunday, April 18, 2021
- Advertisement -

इस बार दिल्ली Delhi University में 31 दिसंबर तक ले सकते हैं दाखिला

- Advertisement -

नई दिल्ली:  ऐसे छात्र जो दिल्ली विश्वविद्यालय के अंडर ग्रेजुएट कोर्स में दाखिला लेना चाहते हैं, उनके लिए अब एक और अवसर है। ओपन लर्निग के माध्यम से ग्रेजुएशन करने के इच्छुक छात्र दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिला ले सकते हैं।

पहले ओपन लर्निग के माध्यम से डीयू में ग्रेजुएशन कोर्स में दाखिला लेने की अंतिम तारीख 30 नवंबर थी।

हालांकि अभी इसे बढ़ाकर 31 दिसंबर कर दिया गया है।

दिल्ली विश्वविद्यालय में ओपन डिस्टेंस लर्निग और ऑनलाइन मोड में होने वाली पढ़ाई के लिए आवेदन की अंतिम तिथि एक माह बढ़ाने का निर्णय विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यानी यूजीसी ने लिया है।

यूजीसी द्वारा लिए गए इस निर्णय के बाद दिल्ली विश्वविद्यालय में स्कूल ऑफ ओपन लर्निग में आवेदन की अंतिम तिथि 31 दिसंबर कर दी गई है।

ये भी पढ़ें : -  Jharkhand Lockdown : झारखंड में 15 दिन का लगेगा लॉकडाउन
ये भी पढ़ें : -  झारखंड : फायरिंग कर शहर में दहशत फैलाने वाले चार अपराधी गिरफ्तार

इससे पहले स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग में आवेदन की अंतिम तिथि 30 नंवबर थी।

दिल्ली विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ ओपन लर्निग के विशेष कार्य अधिकारी प्रोफेसर उमाशंकर पांडेय ने कहा, छात्रों के लिए यह एक बड़ी राहत है।

इस वर्ष दिल्ली विश्वविद्यालय में 30 नवंबर तक केवल 86 हजार छात्रों ने ही दाखिला लिया था।

पिछले वर्ष के मुकाबले छात्रों की यह संख्या लगभग 55 हजार कम थी।

दिल्ली विश्वविद्यालय में एसओएल प्रशासन व दाखिला के कोआर्डिनेटर ने इस तिथि बढ़ाने के लिए एक पत्र भी यूजीसी को लिखा था। इस पत्र के माध्यम से दिल्ली विश्वविद्यालय ने कहा, एसओएल में वंचित वर्ग व कम अंक फीसद वाले सरकारी स्कूलों के छात्र अधिक होते हैं।

ये भी पढ़ें : -  कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी हुई कोरोना पॉजिटिव

कोविड-19 से उपजी स्थिति के कारण उन लोगों को दाखिला के लिए अधिक समय चाहिए। इसलिए यूजीसी को तिथि बढ़ाने पर विचार करना चाहिए।

दिल्ली विश्वविद्यालय में ओपन डिस्टेंस लर्निग और ऑनलाइन मोड में होने वाली पढ़ाई के लिए आवेदन की अंतिम तिथि एक माह बढ़ाने के पीछे एक यह भी तर्क था कि डीयू में स्पेशल ड्राइव के दाखिले बाकी हैं।

ये भी पढ़ें : -  कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी हुई कोरोना पॉजिटिव

जिन छात्रों को वहां दाखिला नहीं मिलेगा, उनके लिए एसओएल एक बड़ा विकल्प है।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img