35 C
Ranchi
Sunday, April 18, 2021
- Advertisement -

कोडरमा रेलवे स्टेशन पर महिला यात्रियों की सुरक्षा को लेकर जल्द होगी महिला बल की प्रतिनियुक्ति

- Advertisement -

न्यूज़ अरोमा कोडरमा: रेल आईजी एस मयंक अपने वार्षिक निरीक्षण को लेकर गुरुवार को कोडरमा पहुंचे।

इस दौरान आरपीएफ कमांडेंट हेमंत कुमार भी शामिल थे।कोडरमा रेलवे स्टेशन निरीक्षण के क्रम में रेल आईजी मयंक ने यात्री समस्याओं की जानकारी ली और कई आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने स्टेशन पर लगे सीसीटीवी फुुटेज को खंगाला।

सीसीटीवी फुटेज खंगालने के क्रम में उन्होंने पाया कि पार्किंग स्थल पर अवैध ढंग से वाहनों के लगाए जाने को लेकर तैनात जवान वेंकटेश की गैरमौजूदगी पर जमकर फटकार लगाई।

निरीक्षण के क्रम में आयोजित सुरक्षा सम्मेलन को लेकर रेल आईजी मयंक ने जवानों की समस्याओं को सुना और आरपीएफ प्रभारी जवाहर लाल के कार्यकाल में अच्छे कार्य के लिए जवानों को प्रोत्साहित भी किया।

ये भी पढ़ें : -  Jharkhand Lockdown : झारखंड में 15 दिन का लगेगा लॉकडाउन

बाद में पत्रकारों से बातचीत करते हुए रेल आईजी मयंक ने कहा कि ग्रैंड कॉर्ड सेक्शन में पड़ने वाले कोडरमा स्टेशन संवेदानशील माना जाता है।

ये भी पढ़ें : -  कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी हुई कोरोना पॉजिटिव

इसलिए हमारा कर्तव्य के साथ-साथ यह प्रयास भी रहेगा कि कोडरमा में यात्री सुरक्षा को लेकर किसी प्रकार की कोताही न बरती जाए। उन्होंने कहा फिलवक्त इस रूट पर यात्री ट्रेनों का परिचालन कम हो रहा है जैसे जैसे ट्रेनों की संख्या बढ़ेगी वैसे वैसे ट्रेनों में एस्कॉर्ट की संख्या भी बढ़ा दी जाएगी।

उन्होंने कहा की अभी हाल के दिनों में आरपीएफ द्वारा मेरी सहेली मुहिम चलाया जा रहा है।

उन्होंने कहा इस मुहिम में आरपीएफ जवान महिला यात्रियों को ट्रेन में उनके साथ हो रही समस्याओं से रूबरू होते हैं और उन्हें यह आश्वासन दिया जाता है कि यात्रा के दौरान उन्हें डरने की जरूरत नहीं है।

ये भी पढ़ें : -  कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी हुई कोरोना पॉजिटिव

आरपीएफ उनकी सुरक्षा को लेकर हमेशा उपलब्ध है। उन्होंने यह भी कहा कि महिलाओं को ट्रेन में हो रही परेशानी के लिए आरपीएफ द्वारा 182 टोल फ्री नंबर जारी किया गया है जिसमें महिलाओं को ट्रेन में हो रही किसी प्रकार की समस्या के लिए भारतीय जवान तत्काल उपलब्ध मिलेंगे।

एक सवाल के जवाब में आईजी ने कहा कि महिला यात्रियों की सुरक्षा को लेकर जल्द ही महिला बल की प्रतिनियुक्ति की जाएगी।

ये भी पढ़ें : -  Jharkhand Lockdown : झारखंड में 15 दिन का लगेगा लॉकडाउन

वही उन्होंने सीसीटीवी फुटेज खंगालने के क्रम में सीसीटीवी की गुणवत्ता पर भी असंतोष प्रकट करते हुए कहा कि टेक्निकल कमी है। इसमें सुधार की आवश्यकता है।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img