32 C
Ranchi
Sunday, April 18, 2021
- Advertisement -

हेमंत सोरेन पर झूठा आरोप लगाने, सरकार गिराने के मामले में झारखंड हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल

- Advertisement -

न्यूज़ अरोमा रांची: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर झूठा आरोप लगाने, सरकार को अस्थिर करने और सरकार को गिराने की बात करने को लेकर भाजपा नेताओं के खिलाफ झारखंड हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल की गई हैं।

याचिका में भाजपा नेताओं के खिलाफ सीआईडी जांच की भी मांग की गई है।

याचिका में राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास, भाजपा सांसद निशिकांत दुबे और प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश को प्रतिवादी बनाया गया है।

याचिका जहांआरा की ओर से अधिवक्ता राजीव कुमार ने याचिका दाखिल की है।

राजीव कुमार ने शुक्रवार को बताया कि याचिका में कहा गया है कि भाजपा के तीनों नेता सरकार गिराने की साजिश रच रहे हैं।

ये भी पढ़ें : -  Jharkhand Lockdown : झारखंड में 15 दिन का लगेगा लॉकडाउन
ये भी पढ़ें : -  कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी हुई कोरोना पॉजिटिव

दो महीने पहले दीपक प्रकाश ने कहा था कि झामुमो के कई विधायक उनके संपर्क में हैं और जल्द ही भाजपा की सरकार बनेगी। इसको लेकर दुमका सदर थाने में देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कराया गया है।

इसकी जांच तेजी से कराने की भी मांग की गई है। इसके अलावा भाजपा सांसद निशिकांत दुबे वर्ष 2013 में एक तथाकथित मामले का जिक्र कर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की छवि खराब कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें : -  कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी हुई कोरोना पॉजिटिव

उनकी मंशा सरकार को अस्थिर करने की है।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर आरोप लगाने वाली महिला ने राष्ट्रीय महिला आयोग और बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है। यह सब भाजपा नेताओं के इशारों पर किया जा रहा है।

इसलिए महिला का मोबाइल कॉल रिकॉर्ड और बैंक की जांच सीआईडी से कराई जाए।

इसके अलावा प्रार्थी का कहना है कि यह जनता की चुनी हुई सरकार को अस्थिर करने की राजनीतिक साजिश की जा रही है और इसमें कई लोग शामिल है।

ये भी पढ़ें : -  Jharkhand Lockdown : झारखंड में 15 दिन का लगेगा लॉकडाउन

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img