33 C
Ranchi
Friday, April 16, 2021
- Advertisement -

झारखंड : PCR चालक का रिश्तेदार ही निकला हत्यारा, पत्नी को प्यार के जाल में फंसा कर करना चाहता था ये काम

- Advertisement -

न्यूज़ अरोमा हजारीबाग: पुलिस जवान सह पीसीआर वाहन चालक विरेंद्र कुमार मेहता हत्याकांड का पुलिस की एसआईटी टीम ने खुलासा कर दिया है।

एसपी कार्तिक एस ने शनिवार को बताया कि इस मामले में मृतक का रिश्तेदार ही हत्यारोपी है।

उसने मृतक की संपत्ति व पत्नी को हड़पने के लिए योजना बनाकर उसकी हत्या कर दी।

पुलिस ने रिश्तेदार आरोपी चतरा मयूरहंड के सोकी निवासी अशोक कुमार मेहता को गिरफ्तार कर लिया है।

इस घटना में प्रयुक्त बोलेरो, दो मोबाइल सेट बरामद किया है। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक ने कहा कि हत्यारोपी अशोक मेहता उसकी पत्नी पूनम देवी को प्रेम जाल में फांसकर उससे विवाह करना चाहता था।

साथ ही पत्नी के नाम सारी संपत्ति हड़पना चाहता था। इसी क्रम में उसने हत्या की योजना को अंजाम दिया।

बताया गया कि 15 दिसंबर की रात 8.30 बजे विरेंद्र कुमार मेहता पीसीआर वैन को कंट्रोल रूम में लगाकर बाइक से दीपूगढ़ा पहुंचा।

एसपी ने बताया कि विरेंद्र को अपने बोलेरो में बैठाकर हत्यारोपी अशोक कुमार मेहता ने उसे जमकर शराब पिलाई। शराब के नशे में धुत्त हो जाने के बाद पत्थर से उसके सर पर वार कर उसकी हत्या कर दी गई।

इसके बाद इचाक प्रखंड मुख्यालय के पीछे सुनसान स्थल पर उसके शव को फेंक कर वह चला गया।

इस संबंध में पुलिस ने मृतक के परिजनों से पहले बयान लिया और बाद में अशोक मेहता से पूछताछ की।

पूछताछ के दौरान अशोक मेहता ने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार की।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img