34 C
Ranchi
Friday, April 16, 2021
- Advertisement -

जमशेदपुर जेल में बंद अपराधी ने करवाई थी बालू कारोबारी सुजय नंदी की हत्या, चार गिरफ्तार

- Advertisement -

सरायकेला: आदित्यपुर थाना अंतर्गत एस टाइप में बुधवार को हुई बालू कारोबारी सुजय नंदी की हत्या मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है।

इस मामले में पुलिस ने चार अपराधियों को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार अपराधियों की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त हथियार और चार मोबाइल भी पुलिस ने बरामद कर लिया है।

गिरफ्तार अपराधियों में आरआईटी निवासी सागर गोप, आदित्यपुर मुस्लिम बस्ती निवासी इमदाद खान, आदित्यपुर मांझी टोला निवासी प्रदीप मान और आशीष दीप शामिल है।

पुलिस ने पूछताछ के बाद सभी को जेल भेज दिया है। सभी ने अपराध में अपनी संलिप्ता स्वीकार कर ली है।

पकड़े गए अपराधियों में इमदाद खान और प्रदीप मान का आपराधिक इतिहास रहा है।

हत्याकांड मामले का खुलासा करते हुए सरायकेला एसपी मोहम्मद अर्शी ने शनिवार को प्रेसवार्ता में बताया कि गिरफ्तार अपराधियों ने सुपारी लेकर बालू कारोबारी की हत्या की थी।

हत्या का फरमान जमशेदपुर के घाघीडीह सेंट्रल जेल में बंद सजायाफ्ता अपराधी कृष्णा गोप ने अपने गुर्गों को जारी किया था। विदित है कि बुधवार को एस टाइप चौक के पास सुबह-सुबह बालू कारोबारी की अपराधियों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी।

जिस समय गोली मारी गई उस समय सुजय नंदी अपनी बाइक पर बैठ कर चाय पी रहा था।

हत्यारों ने पीछे से कनपट्टी में कट्टा सटाकर गोली मार दी थी। बाद में इस मामले में मृतक की पत्नी की शिकायत पर संजीव लोहार, तोपू, कृष्णा गोप समेत अन्य के खिलाफ आदित्यपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

हत्या के बाद आक्रोशित लोगों ने विरोध में आदित्यपुर-कांड्रा मुख्य मार्ग को लगभग तीन घंटे तक जाम कर दिया था।

बाद में आश्वासन के बाद लोग माने थे। इस मामले में पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगा था।

डीआइजी राजीव रंजन सिंह और सरायकेला-खरसावां के एसपी मो. अर्शी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आदित्यपुर थाना के दारोगा जेम्स एक्का को सर्विस रिवालवर नहीं रखने के आरोप में निलंबित कर दिया था।

उसके बाद हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए एक पुलिस टीम सरायकेला एसडीपीओ के नेतृत्व में गठित की गई थी। टीम ने प्रोफेशनल ढंग से सभी अपराधियों को धर दबोचा।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img