36 C
Ranchi
Wednesday, April 14, 2021
- Advertisement -

रांची के स्कूलों में नौ महीने बाद दिखी हलचल, स्टूडेंट्स की मौजूदगी कम, कोरोना को लेकर खास सतर्कता

- Advertisement -

रांची: राजधानी रांची के स्कूलों में नौ महीने बाद सोमवार को थोड़ी हलचल दिखी।

हालांकि, स्कूलों में छात्रों की संख्या कम ही रही। कक्षाएं सुबह नौ बजे से दोपहर तीन बजे तक चलीं।

स्कूलों में साफ-सफाई और सैनिटाइजेशन का काम पहले ही पूरा हो चुका है।

झारखंड : DVC इन साताें एरिया में कुल 600 मेगावाट सप्लाई करता है बिजली, 30 प्रतिशत कटाैती से सीधे आम लाेग होंगे प्रभावित

प्रवेश गेट से लेकर क्लास में प्रवेश करने के लिए छह मीटर की दूरी पर गोल घेरे बनाए गए हैं। थर्मल स्कैनिंग की भी व्यवस्था की गई है।

Uttarakhand Board Exam 2020: Fresh guidelines issued for students appearing  for exams; check details

सभी विद्यार्थियों को सहमति पत्र लाने का निर्देश दिया गया है। बिना अभिभावक के सहमति पत्र के स्कूलों में प्रवेश की अनुमति नहीं है।

अभिभावक के सहमति पत्र पर ही स्कूलों में प्रवेश

झारखंड : पत्नी ने कहा- अब जीने का नहीं करता मन, चलो तुम्हें मार ही डालता हूं बोल पति ने उतार दिया पत्नी को मौत के घाट

सोमवार को कई निजी स्कूलों ने सहमति पत्र मांगा है। इसके बाद ही स्कूल खोलने का फैसला होगा।

जेवीएम श्यामली स्कूल के प्राचार्य समरजीत जाना ने कहा कि पहले अभिभावक से संपर्क कर रहे हैं।

केरलि स्कूल जनवरी माह में स्कूल खोले जाएंगे। डीएवी हेहल मंगलवार से खुलेंगे। डीएवी आलोक, निर्मला कान्वेंट सोमवार से ही खुलेगा।

गुरुनानक हायर सेकेंडरी स्कूल मंगलवार से खोलने का निर्णय लिया है। केंद्रीय विद्यालय नंबर वन एचईसी आदेश के इंतजार में है।

 

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img