30 C
Ranchi
Friday, April 16, 2021
- Advertisement -

नेशनल रैली : गौरव गिल ने दूसरा राउंड भी जीता

- Advertisement -

ईटानगर:  भारत के अग्रणी रैली चालक गौरव गिल ने अपना विजयीक्रम जारी रखते हुए रविवार को चैम्पियन याच क्लब-एफएमएससीआई इंडियन नेशनल रैली चैम्पियनशिप 2002 का दूसरा राउंड, जिसे रैली ऑफ अरुणाचल के नाम से जाना जाता है, का खिताब जीत लिया।

जेके टायर चालक ने अपने सहचालक मुसा शरीफ के साथ वहीं से शुरुआत की , जहां उन्होंने दो दिन पहले राउंड में समाप्त की थी।

गिल ने 42.15.00 मिनट का समय निकालते हुए रैली जीता और ग्रैंड डबल के साथ अरुणाचल लेग पूरा किया।

अपने एक्सयूवी300 में सवार तीन बार के एपीआरसी चैम्पियन गिल ने शानदार फार्म में दिखे और शुरुआत से ही अपना वर्चस्व जारी रखा। शुरुआत के दो नाइट स्टेज के बाद गौरव ने शनिवार को ही 1.51 मिनट की बढ़त ले ली थी।

इसके बा छह स्पेशल स्टेजेज, जिनमें चार नाइट स्टेजेज भी शामिल हैं, में जीत हासिल करते हुए गिल ने खुद को इस राउंड में चैम्पियन के तौर पर स्थापित किया।

गिल के टीममेट अमित्राजीत घोष ने अपने सहचालक अश्विन नाइक के साथ दूसरा स्थान हासिल किया।

इन दोनों ने 43.48.1 मिनट का समय निकाला। घोष भी एक्सयूवी300 चला रहे थे।

वह बीते एक साल से अधिक समय के कार में समस्या का सामना कर रहे थे लेकिन इस बार उन्होंने शानदार ड्राइविंग करते हुए सीजन का पहला पोडियम फिनिश हासिल किया।

घोष ने कहा, पहले तो यह कहूं कि फिर से रैली में आकर अच्छा लग रहा है।

कोविड की हालत और फिर महेंद्रा का पुल करना, हमारे लिए काफी ट्रिकी सिचुएशन था लेकिन जेके टायर और महेंद्रा ने अंतत: हमें सपोर्ट किया और अब चीजें नार्मल होने लगी हैं।

मेरे लिए यह राउंड खास था क्योंकि काफी समय के पाद मैंने पोडियम फिनिश किया है।

इसका सारा श्रेय कार को जाना चाहिए। इसी कार को मैंने यूरोप में चलाया है और अब मैं भारत में इस कार के प्रदर्शन से खुश हूं।

मौैजूदा चैम्पियन चेतन शिवराम अपने सहचालक रुपेश खोले (योकोहामा टायर्स) पहले राउंड में डिसक्वालीफाई हो गए थे लेकिन दूसरे राउंड में इन दोनों ने स्टाक इंजन कार के साथ शुरुआत की।

बिल्कुल अलग स्पेक्स वाली गाड़ी होने के बावजूद दोनों ने ओवरऑल 13वां स्थान हासिल करते हुए बहुमूल्य लेग अंक प्राप्त किए। अब दोनों बाकी के राउंड्स में अच्छा प्रदर्शन करते हुए पोडियम फिनिश करना चाहेंगे।

एमआरएफ टायर्स के कर्णा कादूर ने भी अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखा है। पहले राउंड में वह रनरअप रहे थे।

इस राउंड में वह तीसरे स्थान पर रहे। अपने सहचालकर निखिल पाई के साथ कर्णा ने लगातार घोष का पीछा किया और समान दूरी पर बने रहते हुए कुल 44.57.3 मिनट समय के साथ तीसरे स्थान पर रहे।

पोडियम पर उनकी पहुंच ने अंक तालिका में उन्हें दूसरे स्थान पर पहुंचा दिया है।

आईएनआरसी 2 में डीन मास्कारेनहास अपने सहचालक श्रुप्था पाडिवाल के साथ शानदार प्रदर्शन करते हुए 45.38.6 मिनट के साथ पहले स्थान पर रहे जबकि स्नैप रेसिंग के साहिल खन्ना और उनके सहचालक विदित जैन ने 47.42.0 मिनट के साथ दूसरे स्थान पर रहे।

राहुल काथिराज ने अपने सहचालक विवेक भट के साथ तीसरा स्थान पाया।

आईएनआरसी 3 में टीम नुटुललापती के आदित्य ठाकुर ने अपने सहचालक वीरेद्र कश्यप के साथ पहला स्थान पाया जबकि बीते राउंड में इस क्लास के विजेता मनिंदर सिंह प्रिंस ने अपने नेवीगेटर विनय पी. के साथ तीसरा स्थान पाया। फबिद अहमर और एल्डो चाको की जोड़ी दूसरे स्थान पर रही।

मुजीब रहमान और गौतम सीपी ने आईएनआरसी 4 में पहला स्थान पाया जबकि बीते साल के विजेता वैभव मराठे और सुहान एमके ने दूसरा स्थान पाया।

इसी तरह रोहित अय्यर और एम. मंजूनाथ ने पोडियम पर तीसरा स्थान पाया।

जूनियर आईएनआरसी कटेगरी में हरिकृष्णा वादिया और चिराग ठाकुर ने टॉप पोजीशन हासिल किया जबकि अर्जुन ने अपने नेवीगेटर शनमुगम एसएन के सात दूसरा स्थान पाया।

इसी तरह टीम वसुंधरा की प्रगति गौड़ा ने अपनी नेवीगेटर दीक्षा बालाकृष्णा के साथ फिर से प्रभावित करते हुए तीसरा स्थान पाया।

- Advertisement -

Latest news

- Advertisement -

Related news

- Advertisement -spot_img