OMG! झारखंड में यहां बेटे की शादी के दिन ही टूटा दुखों का पहाड़, इधर घर आई दुल्हन की डोली उधर सास की उठी अर्थी

हजारीबाग: झारखंड के हजारीबाग जिले में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है।

टाटीझरिया मुख्यालय से सटे महज 300 मीटर दूर स्थित टाटी गांव में बेटे की शादी के दिन ही मां की अर्थी उठने का रौंगटे खड़े करने वाला मामला सामने आया है।

एक ओर घर में दुल्हन की डोली आई तो दूसरी ओर घर से दूल्हे की मां की ही अर्थी निकल गई।

बताया गया कि बेटे की बारात निकलने ही वाली थी। इसी बीच मां की मौत हो गई। ऐसे में समाज के लोगों ने महिला के दाह संस्कार से पहले बेटे की शादी कर लेने का निर्णय लिया।

तत्काल शव को ढककर आनन-फानन में विवाह कराया गया।

क्या है मामला

जानकारी के अनुसार, टाटी निवासी चिंटू अगेरिया के लड़के संजय अगेरिया की शादी 20 मई को होने वाली थी।

ऐसी दुल्हन, जो शादी करने के बाद अपने ही पति को बनाती थी निशाना, सच्चाई जान  पैरों तले खिसक जाएगी जमीन - exposing gangs like dolly ki doli will surprise  the act

संजय की शादी खरकी बनासो में तय हुई थी। संजय और उसकी मां एक दिन पहले ही विष्णुगढ़ से शादी के लिए कपड़े खरीदकर आए थे।

अचानक रविवार शाम को संजय कुमार अगेरिया की मां की तबियत बिगड़ गई। उसे दस्त होने लगा और बाद में सोमवार को देर शाम में ही मौत हो गई।

गांव-समाज के लोगों ने दाह संस्कार करने से पहले उसके बेटे की शादी कराने का फैसला लिया।

क्योंकि इधर लड़का का और उधर लड़की की शादी के लिए लग्न का कार्यक्रम हो चुका था।

अगले दिन दुल्हन विष्णुगढ़ के खरकी से टाटी आई और इसके बाद यहां से मां की अर्थी निकली।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button