खूंटी में सभी सीएचसी में बन रहे 20 बेड के चाइल्ड फ्रेंडली अस्पताल: उपायुक्त

खूंटी: कोरोना की तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा पूरी तैयारी की जा रही है। सभी सीएचसी में 20.20 बेड के चाइल्ड फ्रेंडली अस्पताल बनाया जा रहा है। ये बातें उपायुक्त शशि रंजन ने शुक्रवार को आयोजित पत्रकार वार्ता में कही।

डीसी ने कहा कि जिले में कोरोना संक्रमण दर कम हुई है। धीरे.धीरे कोरोना मरीजों की संख्या भी कम हुई है। टीकाकरण की भी अच्छी स्थिति है। जिले में 40 मोबाइल वैन से गांव.टोलों में जाकर टीके दिये जा रहे हैं।

डीसी ने कहा कि अब जिले में महज 90 सक्रिय कोरोना मरीज रह गये हैं। टीकाकरण में भी खूंटी जिला राज्य में बेहतर स्थिति पर है। जिले में टीके की वेस्टेज दर माइनस 1.15 प्रतिशत है।

उपायुक्त ने बताया कि जिदान संस्था द्वारा जिले को पांच डॉक्टर और 60 नर्स उपलब्ध कराये जा रहे हैं। इनमें शुक्रवार को तीन स्पेशलिस्ट और एक डॉक्टर ने योगदान दे भी दिया है।

रनिया में एक करोड 62 लाख रुपये की लागत से अस्पताल भवन का निर्माण किया जायेगा। इसका पूर्व में निर्माण कार्य बंद हो गया था। इसके लिए कोर्ट से अनापत्ति मिल गई है।

डीसी ने बताया कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए मुरहू के पंचघाघ में दो अर्द्धनिर्मित भवन का निर्माण कार्य पूरा किया जाएगा।

कर्रा के लतरातू डैम में पर्यटकों की सुविधा के लिए जलाशय में सीढ़ी और दो लैंडिंग कम सेल्फी पोइंट का निर्माण किया जाएगा।

इसके अलावा वहां एक गेस्ट हाउस का भी निर्माण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आम्रेश्वर धाम में मंदिर परिसर में पांच दुकान और कार्यालय कक्ष का निर्माण किया जाएगा।

उपायुक्त ने कहा कि जिले में डीजी साथ कार्यक्रम के तहत खूंटी जिला राज्य में साप्ताहिक क्विज में तीसरे स्थान पर है। जिले के 770 स्कूलों में से 639 ने डीजी साथ कार्यक्रम के तहत वर्गवार वाट्सएप्प ग्रुप बना लिया है।

जिले के 25461 विद्यार्थियों ने डीजी स्कूल एप्प डाउनलोड किया है और ऑनलाइन शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। मौके पर परियोजना निदेशक आइटीडीए संजय भगतए डीपीआरओ माकिरण मुंडा आदि उपस्थित थे।

Back to top button