Coronavirus Third Wave : स्वास्थ्य विभाग झारखंड के अपर मुख्य सचिव ने जारी किया पत्र

रांची: स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह ने जिलों के चिकित्सा दलों के एनआईसीयू NICU और पीआईसीयू PICU के तहत प्रशिक्षण के संबंध में शनिवार को एनएचएम के अभियान निदेशक सहित अन्य को पत्र जारी किया है।

जारी पत्र में उन्होंने कहा है कि कोविड-19 के संभावित तीसरे लहर में दो से 18 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के आक्रांत होने की आशंका जताई जा रही है।

ऐसी स्थिति में कोविड-19 महामारी को भयावहता को ध्यान में रखते हुए ससमय तीसरे लहर की तैयारी प्रारंभ करना आवश्यक है।

उक्त वर्णित परिस्थिति में यह परम आवश्यक है कि जिले में उपलब्ध मानव संसाधनों का समुचित प्रशिक्षण तथा कौशल संवर्धन किया जाए। इस क्रम में जिला चिकित्सा दलों का क्रमवार प्रशिक्षण किया जाना उचित है।

जिलों द्वारा उपलब्ध कराए गए सूची अनुसार चार जिले बोकारो, खूंटी, रामगढ़ और लोहरदगा के चिकित्सा दलों का प्रशिक्षण रांची हॉस्पिटल (मछली घर के पीछे) 14 से 19 जून तक निर्धारित किया गया है।

जहां प्रतिभागियों को प्रतिदिन नौ पांच बजे तक उपस्थित रहकर हैंड्स ऑन प्रशिक्षण प्राप्त करना है।

साथ ही निर्देशित किया जाता है कि ऊपर वर्णित जिलों के द्वारा नामित शिशु रोग विशेषज्ञ, चिकित्सा पदाधिकारी एवं स्टाफ नर्स को ससमय विरमित करना सुनिश्चित किया जाए।

संबंधित सिविल सर्जन प्रतिनियुक्ति के क्रम में वैकल्पिक व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे ताकि उक्त प्रशिक्षण के परिणाम स्वरुप जिलों के चिकित्सा सेवा तथा व्यवस्था प्रभावित ना हो।

अन्य जिलों में रानी हॉस्पिटल रांची में प्रशिक्षण के लिए आने वाले दलों के प्रशिक्षण के वरीय प्रभार में भुवनेश प्रताप सिंह, परियोजना निदेशक जेएसएसीएसएस झारखंड रहेंगे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button