झारखंड : संक्रमण रोकने के लिए अंतर्राज्यीय बॉर्डर चेकपोस्ट पर सख्ती जरूरी

मेदिनीनगर: प्रमंडल क्षेत्र के संबंधित जिलों के प्रशासनिक एवं पुलिस पदाधिकारी गाइडलाइन का सख्ती से अनुपालन कराना सुनिश्चित कराएं।

संक्रमण को रोकने के लिए अंतर्राज्यीय बॉर्डर चेकपोस्ट पर सख्ती जरूरी है।

दूसरे राज्यों से आने वालों की ई-पास एवं मास्क की सघन जांच करें एवं स्वास्थ सुरक्षा सप्ताह के प्रावधानों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करना सुनिश्चित करें।

यह बातें सोमवार को आयुक्त जटाशंकर चौधरी ने कही। कोविड-19 संक्रमण को देखते हुए आयुक्त व डीआईजी आज गढ़वा जिले के मुड़ीसेमर एवं गोदरमाना स्थित अंतर्राज्यीय बॉर्डर चेकपोस्ट का निरीक्षण कर रहे थे।

ये दोनों बॉर्डर चेकपोस्ट क्रमशः झारखंड को उत्तर प्रदेश एवं झारखंड को छत्तीसगढ़ राज्य को जोड़ती है।

आयुक्त ने कहा कि कोविड संक्रणम को देखते हुए सभी को सावधान एवं सतर्क रहते हुए गाइडलाइन का पालन करना आवश्यक है।

गाइडलाइन के अनुपालन से संक्रमण की चेन को तोड़ा जा सकता है।

उन्होंने दूसरे राज्यों से झारखंड में आने वाले आगंतुकों, राहगीरों एवं झारखंडवासियों का अंतर्राज्यीय बॉर्डर चेक पोस्ट पर कोविड की जांच अवश्य कराने का निदेश दिया, ताकि उनमें संक्रमण का पता लगाया जा सके।

उन्होंने कहा कि ई-पास एवं मास्क की गहनता से चेकिंग करें।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 संक्रमण पर नियंत्रण के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में भी जांच को बढ़ाएं, ताकि समय रहते संक्रमित मरीजों की पहचान और उनका इलाज कराई जा सके।

निरीक्षण के दौरान पलामू डीआईजी आरके लकड़ा ने अंतर्राज्यीय बॉर्डर चेकपोस्ट पर तैनात जवानों को सुरक्षा सप्ताह का सख्ती से अनुपालन कराने का निर्देश दिया।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button