मेयर आशा लकड़ा ने नगर आयुक्त को लिखा पत्र

रांची: मेयर आशा लकड़ा ने नगर आयुक्त को पत्र लिख कर कहा है कि राजनीतिक द्वेष छोड़कर शहर की जनता से जुड़ी समस्याओं के समाधान की दिशा में विधि सम्मत कार्य करें।

दरअसल, मेयर ने 11 जून को रांची नगर निगम क्षेत्र के विभिन्न वार्डों में नालियों की साफ-सफाई का निरीक्षण किया था।

निरीक्षण से एक दिन पूर्व रांची नगर निगम के संबंधित विभाग के अधिकारियों को भी निरीक्षण के दौरान उपस्थित रहने की सूचना दी गई थी। लेकिन मेयर के निरीक्षण के दौरान सिर्फ एनफोर्समेंट टीम के कर्मी, सुपरवाइज़र व जोनल सुपरवाइज़र ही उपस्थित रहे।

रांची नगर निगम के एक भी अधिकारी निरीक्षण के दौरान उपस्थित नहीं थे।

आशा लकड़ा ने अधिकारियों की इस अनुशासनहीनता के प्रति नगर आयुक्त मुकेश कुमार को ही जिम्मेदार ठहराया है।

उन्होंने नगर आयुक्त को लिखे गए पत्र में कहा है कि पूर्व सूचना देने के बाद भी मेयर के निरीक्षण के दौरान रांची नगर निगम के एक भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे। फिर भी आपने संबंधित अधिकारियों पर कोई कार्रवाई नहीं की।

अधिकारियों का उपस्थित नहीं होना कहीं न कहीं यह इंगित करता है कि उन्हें आपके द्वारा कार्रवाई किए जाने का कोई डर नहीं है। ऐसे में आपकी कार्यशैली पर भी सवाल उठना लाजमी है।

मेयर ने कहा है कि निरीक्षण के दौरान जोड़ा तालाब के अधूरे कार्यों का भी निरीक्षण किया गया था, लेकिन अभियंत्रण शाखा के अधिकारियों की अनुपस्थिति के कारण जोड़ा तालाब के अधूरे कार्यों से संबंधित कारणों की जानकारी नहीं मिल पाई।

पिछले दिनों आपके माध्यम से जोड़ा तालाब का सुंदरीकरण व जीर्णोद्धार का कार्य कर रहे संवेदक पर कार्रवाई करने की बात कही गई थी। उस दिशा में अब तक क्या कार्रवाई की गई है।

यदि इस मामले को आपने गंभीरता पूर्वक नहीं लिया है तो क्या यह समझा जाए कि आप अपने ही निर्णय पर कार्रवाई करने में सक्षम नहीं हैं।

Back to top button