सिमडेगा की बेटी पूर्णिमा का अंडर 19 भारतीय महिला फुटबॉल टीम में हुआ चयन

सिमडेगा: सिमडेगा की पूर्णिमा कुमारी का अंडर 19 भारतीय महिला फुटबॉल टीम में चयन हुआ है।

वह बांग्लादेश के लिए रवाना हो गई। पूर्णिमा कुमारी ठेठाईटांगर प्रखंड के जामबाहर गांव की रहने वाली है। वर्तमान समय में आवासीय बालिका फुटबॉल प्रशिक्षण केंद्र हजारीबाग में फुटबॉल का प्रशिक्षण ले रही है।

लगातार अच्छा प्रदर्शन करने के कारण ही उसे भारतीय टीम में जगह मिली।

पूर्णिमा अत्यंत गरीब परिवार से है। उसकी मां नहीं है। पिताजी जीतू मांझी भी काफी वृद्ध हो गये है। बड़ी बहन मनमैत कुमारी एवं छोटा भाई बलदेव मांझी के सहयोग से ही इनका परिवार चलता है।

समय में सिमडेगा जिला में बालिकाओं के लिये फुटबाल प्रशिक्षण की कोई सुविधा नहीं है।

2016 में फुटबॉल खिलाड़ियों की प्रतिभा को देखते हुये व्यक्तिगत प्रयास से यहां पर महिला फुटबॉल एवं एथलेटिक खिलाड़ियों का अखबार में विज्ञापन निकलवाकर ट्रायल कराया गया था।

इसमें कुछ प्रतिभावान खिलाड़ियों को चयनित कर आवासीय प्रशिक्षण केंद्र हजारीबाग ट्रायल में भेजा गया था, जहां से सिमडेगा की पूर्णिमा सहित चार खिलाड़ियों का चयन फुटबॉल एवं तीन खिलाड़ियों का चयन एथलेटिक्स में हुआ।

पूर्णिमा जूनियर भारतीय महिला फुटबॉल टीम के लिए लगातार खेल रही हैं। वहीं बाकी खिलाड़ी भी झारखंड टीम से खेलते हुए कई पदक जीत चुकी हैं। पिछले वर्ष लॉकडाउन के समय के कारण काफी दिनों तक घर में ही रहकर पूर्णिमा अभावों से गुजर रही थी।

हॉकी सिमडेगा के पदाधिकारी उसके घर पहुंच कर उनकी वास्तविक स्थिति की फोटोग्राफी एवं वीडियो बना कर मीडिया के मित्रों के माध्यम से सरकार तक बात पहुंचाई थी।

प्रशिक्षण की व्यवस्था करायी गयी थी।पूर्णिमा कुमारी विपरीत परिस्थिति से गुजरते हुये भी अंडर 19 भारतीय महिला फुटबॉल टीम में कड़ी मेहनत और लगन से जगह बनाने मे कामयाब हुई

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button