झारखंड में आदिवासी छात्रा का अपहरण कर सामूहिक दुष्कर्म, नाबालिग देखने गई थी जतरा ; पुलिस ने पीड़िता को जंगल से किया बरामद

न्यूज़ अरोमा खूंटी: जिले का आपराधिक ग्राफ लगातार ऊंचा होता जा रहा है। आपराधिक घटनाओं में लगातार वृद्धि हो रही है।

जिले के कर्रा प्रखंड अंतर्गत कर्रा थाना क्षेत्र में गत सोमवार को पांच युवकों द्वारा एक नाबालिग आदिवासी छात्रा का अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किए जाने का मामला प्रकाश में आया है।

घटना की जानकारी होने पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए पीड़िता को बरामद कर लिया। इस संबंध में पुलिस तीन.चार युवकों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ कर रही है।

जानकारी के मुताबिक गत सोमवार को कर्रा थानांतर्गत साकेटोली बाजार टांड में एक जतरा का आयोजन हो रहा था। उक्त छात्रा पड़ोस के चार बच्चों के साथ जतरा देखने गई थी।

वहां से वापस लौटते समय रात में करीब नौ बजे दो बाइक पर सवार पांच युवक उनके पास पहुंचे।

उक्त युवकों ने छात्रा को जबरन मोटरसाइकिल में बैठा लिया और एक स्थान पर ले जाकर पांचों ने उसके साथ दुष्कर्म किया।

पीड़िता के साथ गए बच्चों ने गांव पहुंचकर घटना के बारे में पीड़िता के स्वजनों को बताया।

स्वजनों ने तत्काल गांव की एक महिला से संपर्क कियाए तो उसने तुरंत समाजसेवी लक्ष्मी बाखला को मामले से अवगत कराया।

इस पर लक्ष्मी बाखला ने तत्काल पुलिस अधीक्षक आशुतोष शेखर को खबर की।

पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर कर्रा पुलिस हरकत में आ गई और तोरपा एसडीपीओ ओमप्रकाश तिवारीए इंस्पेक्टर दिग्विजय सिंह व कर्रां थाना प्रभारी मुन्न सिंह के नेतृत्व में छापामार टीम छात्रा की तलाश में निकल पड़ी।

इसके बाद पुलिस ने नाबालिग छात्रा को रात करीब 12.30 बजे सावड़ा जंगल से बरामद कर लिया।

मंगलवार को पुलिस ने पीड़िता की मेडिकल जांच कराई। एसडीपीओ ओमप्रकश तिवारी ने बताया कि तीन.चार युवकों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ की जा रही है। जल्द ही सभी अपराधी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button