झारखंड

…और इस तरह चैट और मोबाइल डाटा से सामने आया बालू तस्करी का मामला…

बालू तस्करी (Sand Smuggling) झारखंड की एक प्रमुख समस्या है। बालू माफिया के कारण लोगों को महंगा बालू मिलता है।

Tupudana OP Incharge Meera Singh: बालू तस्करी (Sand Smuggling) झारखंड की एक प्रमुख समस्या है। बालू माफिया के कारण लोगों को महंगा बालू मिलता है।

झारखंड की रांची के Tupudana OP की प्रभारी मीरा सिंह और युवा कांग्रेस के प्रदेश सचिव लाल मोहितनाथ शाहदेव के चैट व मोबाइल डाटा से आर्म्स की तस्करी तथा बालू तस्करी के मामले का खुलासा हुआ है।

मीरा सिंह की डायरी और मोबाइल जांच से पता चलता है कि प्रतिदिन कई ट्रक बालू की तस्करी होती थी। इनमें खूंटी-रांची के Syndicate लगे हुए थे, जिनके माध्यम से उगाही की जाती थी।

उल्लेखनीय है कि कि तुपुदाना में तैनाती के दौरान भी विकास सिन्हा नाम के युवक से मारपीट के केस में मीरा के खिलाफ कार्रवाई का आदेश राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने दिया था। इस मामले में DGP ने मीरा का तबादला पदमा कर दिया, लेकिन मीरा ने तबादला रुकवा दिया।

कांग्रेस नेता मोहित लाल के मोबाइल से मिले साक्ष्य के मुताबिक, ED को आर्म्स तस्करी में उसकी संलिप्तता के सबूत भी मिले हैं।

ED इस मामले में मोहित से शुरुआती पूछताछ भी कर चुकी है। पूछताछ में आए तथ्यों से राज्य की एजेंसियों के साथ-साथ राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) से ED भी जानकारी शेयर कर सकती है।

x