एमएलसी का टिकट लेने के बाद शिवसेना में शामिल हुईं उर्मिला मातोंडकर

मुंबई: भारतीय राजनीति में आमतौर पर सेलिब्रिटीज या नेता किसी पार्टी में शामिल होते हैं या पार्टी बदलते हैं तो उन्हें विधायक या संसद के टिकट से नवाजा जाता है।

लेकिन मुंबई में इसमें अभूतपूर्व बदलाव देखने को मिला।

मंगलवार को यहां बॉलीवुड अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर को वरिष्ठ नेताओं की उपस्थिति में पहले शिवसेना का टिकट दिया गया और फिर उसके बाद उन्हें आधिकारिक रूप से पार्टी में शामिल कर लिया गया।

शिवसेना अध्यक्ष और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मातोंडकर का पार्टी की ओर से गर्मजोशी से स्वागत किया।

वहीं उनकी पत्नी रश्मि उद्धव ठाकरे ने उन्हें शिव बंधन धागा बांधा, जो कि नई पार्टी के साथ उनके जुड़ाव का प्रतीक है।

इसके बाद उन्होंने हाथ जोड़कर शिवसेना के संस्थापक-संरक्षक दिवंगत बालासाहेब ठाकरे और उनकी पत्नी मीनाताई ठाकरे के चित्र को प्रणाम किया।

सितंबर 2019 में कांग्रेस छोड़ने के बाद से मातोंडकर 14 महीने तक डिनायल मोड में रहीं और उसके बाद सत्ताधारी महा विकास अघाड़ी (एमवीए) से उन्हें महाराष्ट्र विधानमंडल के ऊपरी सदन का टिकट मिला।

मातोंडकर के पार्टी जॉइन करने की संभावना को देखते हुए पिछले महीने (नवंबर 2020) ही महाराष्ट्र विधान परिषद के लिए राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के कोटे से एमवीए के 11 लोगों के साथ उनका नाम भी नामांकित करने की सिफारिश कर दी गई थी।

मातोंडकर पिछले साल मुंबई उत्तर निर्वाचन क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी के गोपाल शेट्टी के हाथों चुनाव हार गईं थीं और हार का आरोप पार्टी पर लगाते हुए उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी थी।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों से पहले, ऐसी अटकलें थीं कि वह शिवसेना, शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी या यहां तक कि राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना में शामिल होंगी, लेकिन उन्होंने इसे अफवाह बताया था।

बेबाक अंदाज वाली मातोंडकर को विभिन्न मुद्दों पर साहसिक बयान देने के लिए जाना जाता है। कुछ महीने पहले वह और अभिनेत्री कंगना रनौत सोशल मीडिया पर उलझ भी गईं थीं।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button