भारत में यहां मास्क न लगाने पर लोगों के खिलाफ हुए 45 करोड़ के चालान

नई दिल्ली: कोरोना नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ दिल्ली में बड़े पैमाने पर चालान किए जा रहे हैं। अभी तक दिल्ली में मास्क न लगाने वाले लोगों के खिलाफ 45 करोड़ रुपये के चालान किए जा चुके हैं। यह जानकारी सोमवार को स्वयं दिल्ली सरकार द्वारा दी गई है।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा, बीते दिनों 45 करोड़ रुपये के चालान किए गए हैं। मास्क न लगाने वालों और सोशल डिस्टेंसिग का पालन न करने वालों पर अभी भी सख्ती की जाएगी।

छठ पूजा में सबको एक साथ तालाब में उतरना होता है। अगर 5 लोग पॉजिटिव हुए तो सब पॉजिटिव हो जाएंगे। इतना बड़ा रिस्क नहीं ले सकते।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा, दिल्ली में कोरोना की तीसरी वेव जा चुकी है। पहली वेव जून में आई थी। इसके बाद कोरोना की दूसरी लहर सितंबर में आई और तीसरी वेव अब आई है। तीसरी वेव का पीक जा चुका है। पॉजिटिविटी 15 फीसदी आई थी, वो दोबारा नहीं आएगी। मैं आज कह सकता हूं, तीसरी वेव का पीक जा चुका है।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन से दिल्ली में फिर से लॉकडाउन लगाए जाने की संभावनाओं से इनकार किया। उन्होंने कहा, पहले जो लॉकडाउन किया गया था वह एक लर्निग एक्सरसाइज थी। उस लॉकडाउन से जो सीख मिली वो यह थी कि लॉकडाउन से जो फायदा लेना है वो मास्क से भी लिया जा सकता है।

जैन ने कहा, अब फेस्टिवल जा चुके हैं। बाजारों में भीड़ कम हो जाएगी, फिर भी थोड़ा डर रखिए और मास्क जरूर लगाएं।

वहीं, रविवार शाम मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था, दिल्ली में दैनिक कोविड-19 परीक्षणों की संख्या बढ़ाकर 1 लाख से 1.25 लाख की जाएगी। केंद्र ने 750 आईसीयू बेड का आश्वासन दिया है, जिन्हें डीआरडीओ केंद्र में उपलब्ध कराया जाएगा।

सीएम केजरीवाल ने कहा, गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कोविड महामारी की स्थिति पर एक आपात बैठक बुलाई। इस बैठक के बाद हमें आश्वासन मिला है कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार दोनों की सभी एजेंसियां मिलकर काम करेंगी। मैं गृहमंत्री अमित शाह को उनके सहयोग के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं।

दिल्ली के सीएम ने कहा, केंद्र सरकार ने स्थिति को देखते हुए आश्वासन दिया है कि डीआरडीओ केंद्र में वे 750 आईसीयू बेड उपलब्ध कराएंगे। 250 बिस्तर सोमवार को उपलब्ध कराए जाएंगे, इसके बाद मंगलवार को 250 और बुधवार को 250 शेष बेड उपलब्ध कराए जाएंगे।

Back to top button