बिहार में मोटे पुलिस वालों को इनाम देगी नीतीश सरकार, शर्त है घटाना होगा वजन

पटना: देखा गया है कि पुलिसवालों की ड्यूटी ऐसी होती है कि कई दफे वे समय से न तो खा पाते हैं ना ही सोते हैं।

इस वजह से लम्बे समय तक फील्ड में काम करनेवाले पुलिसकर्मी भी उच्च रक्तचाप और मधुमेह जैसी बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं।

पुलिस में इसकी शिकायतें बढ़ती जा रही हैं। इससे दूसरी बीमारियों का खतरा भी बना रहता है।

पुलिसवालों को बीमारी से बचाने और उन्हें फिट रखने के लिए पुलिस अधिकारियों और जवानों को खेल-कूद के साथ पीटी-परेड कराने और वजन कम करने की प्रतियोगिता कराई जाएगी।

पुलिस मुख्यालय के इसी महीने जारी आदेश के मद्देनजर कई जिलों द्वारा इसपर काम शुरू कर दिया गया है। रोहतास के एसपी ने तो इसको लेकर आदेश भी जारी कर दिया है।

वहीं पुलिसकर्मियों को वजह घटाने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए एक प्रतियोगिता भी रखी गई है।

लंबाई के अनुपात में ज्यादा वजनदार पुलिसकर्मियों को करीब डेढ़ महीने का समय दिया गया।

शुरू में उन्हें पुलिस लाइन में आकर अपना नाम और रैंक के साथ वजन दर्ज कराना होगा। दोबारा अगस्त में उनका वजन लिया जाएगा।

इस दौरान सबसे ज्यादा प्रतिशत में वजन घटानेवाले पहले, दूसरे और तीसरे स्थान पर आनेवाले पुलिसकर्मियों को एसपी पुरस्कृत करेंगे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button