पटरी से उतरी बीकानेर-गुवाहाटी एक्सप्रेस में बीकानेर-जयपुर से 872 यात्री हुए थे सवार, इन ट्रेनों का बदला मार्ग

बीकानेर/जयपुर: उत्तर-पश्चिम रेलवे के बीकानेर रेलवे स्टेशन से मंगलवार देर रात्रि एक बजकर 45 मिनट पर रवाना हुई गाड़ी संख्या 15633 बीकानेर-गुवाहाटी बीकानेर एक्सप्रेस ट्रेन की गुरुवार को दुर्घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय प्रशासन के साथ राहत कार्य प्रारंभ कर दिए गए हैं।

यात्रियों की सहायता के लिए उत्तर पश्चिम रेलवे द्वारा हेल्पलाइन नंबर भी बीकानेर 0151-2208222, जयपुर 0141-2725942, 9001199959 जारी किया गया है।

ट्रेन में राजस्थान के 872 लोग थे। उत्तर-पश्चिम रेलवे मुख्य जनसंपर्क अधिकारी कैप्टन शशिकिरण के मुताबिक 308 यात्री बीकानेर से और 564 जयपुर से चढ़े थे।

बीकानेर मंडल वाणिज्य प्रबंधक (डीसीएम) डॉ सीमा बिश्नोई ने बताया कि ट्रेन के दुर्घटनाग्रस्त होने से पहले बीकानेर के 131 यात्री उतर चुके थे और दुर्घटनाग्रस्त गाड़ी में 177 यात्री सवार थे, जो उतर नहीं पाए थे।

फिलहाल अन्य जानकारी देने में उन्होंने असमर्थता जतायी और हेल्पलाइन नंबर जारी कर दिए। बीकानेर एक्सप्रेस की एस-3 से लेकर एस-13 और डी-2 कोच पटरी से उतरे हैं। जानकारी यह भी मिली है कि पटरी से उतरी बोगियों में 1053 लोग सवार थे।

दुर्घटना के बाद से बीकानेर से लेकर जयपुर स्टेशन तक हड़कंंप मच गया। दुर्घटना की सूचना मिलने पर यहां के रेलवे स्टेशनों पर जानकारी लेने के लिए फाेन घनघना उठे।

कुछ परिजन तो स्टेशनों पर पहुंच गए। बीकानेर के गंगाशहर में सबसे ज्यादा चिंता बढ़ गई है। दरअसल, इसी क्षेत्र के सबसे ज्यादा लोग गुवाहाटी में रहते हैं।

गुवाहाटी में रहने वाले सभी बीकानेर के लोगों से मौके पर पहुंचने अथवा जैसे भी संभव हो घायलों की मदद करने की अपील की गई है।

इस गाड़ी में करीब सत्तर फीसदी यात्री बीकानेर, नोखा व नागौर से होते हैं। इसके अलावा इस गाड़ी में मेड़ता रोड, डेगाना, जयपुर, भरतपुर के लोग भी यात्रा करते हैं।

बीकानेर नोखा व नागौर के यात्री गुवाहाटी तक जाते हैं, जबकि शेष दूसरे स्टेशन पर उतर जाते हैं।

राज्यपाल और सीएम ने जतायी संवेदना

राज्यपाल कलराज मिश्र ने दुर्घटना में यात्रियों की मृत्यु पर शोक संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने ईश्वर से दिवंगतों की आत्मा को शांति प्रदान करने और शोकाकुल परिजनों को यह दुःख सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की भी कामना की है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा कि पश्चिम बंगाल में बीकानेर-गुवाहाटी एक्सप्रेस के डिब्बे पटरी से उतर जाने पर लोगों की मौत की खबर सुनकर दु:ख हुआ।

शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना। वे इस नुकसान को सहन करने के लिए मजबूत बने रहें। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना।

केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल, बीकानेर नगर निगम मेयर सुशीला कंवर राजपुरोहित ने बीकानेर गुवाहाटी एक्सप्रेस ट्रेन के दुर्घटनाग्रस्त होने पर दु:ख जताया है। उन्होंने प्रभु श्रीराम से सभी यात्रियों के सकुशल होने की कामना की है।

इन ट्रेनों का मार्ग बदला

पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे के अलीपुर द्वार मंडल पर गाड़ी संख्या 15633, बीकानेर-गुवाहाटी एक्सप्रेस के रेल अवपथन के कारण रेल मार्ग बाधित हुआ है।

उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी कैप्टन शशि किरण के अनुसार इस कारण उत्तर पश्चिम रेलवे पर संचालित कुछ रेल सेवाओं का मार्ग परिवर्तन किया गया है।

गाड़ी संख्या 15632 गुवाहाटी-बाड़मेर एक्सप्रेस जो 13-01-2022 को गुवाहाटी से रवाना होगी, वह परिवर्तित मार्ग न्यू कूचबिहार-माथा भंगा एवं रानीनगर जलपाईगुड़ी होकर संचालित की जाएगी।

वहीं गाड़ी संख्या 15910 लालगढ़-डिब्रूगढ़ एक्सप्रेस रेल सेवा जो 11-01-2022 को लालगढ़ से प्रस्थान की है, वह रेल सेवा अपने निर्धारित मार्ग न्यू जलपाईगुड़ी, रानीनगर जलपाईगुड़ी, धुपगुरी, न्यू कूचबिहार, मंडामरी, डालगांव, हसीमारा एवं अलीपुरद्वार जंक्शन के स्थान पर परिवर्तित मार्ग न्यू जलपाईगुड़ी, सिलीगुड़ी जंक्शन, न्यू माल जंक्शन अलीपुरद्वार एवं सामुक्ताला रोड जंक्शन होकर संचालित की जाएगी।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button