बिजनेस

अरे बाप!…….बैंकों में पड़े 78,213 करोड़ रुपए लेने वाला कोई नहीं, अब इनका…

देशभर के बैंकों (Banks) में हजारों करोड़ रुपए यूं ही पड़े हैं। इन हजारों करोड़ रुपए का कोई दावेदार ही नहीं है।

Annual Report of the Reserve Bank of India : देशभर के बैंकों (Banks) में हजारों करोड़ रुपए यूं ही पड़े हैं। इन हजारों करोड़ रुपए का कोई दावेदार ही नहीं है।

एक ताजा आंकड़ों में यह सामने आया कि बैंकों में बिना दावे वाली जमा राशि सालाना आधार पर 26 प्रतिशत बढ़कर 31 मार्च 2024 के आखिर तक 78,213 करोड़ रुपए हो गई है।

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की गुरुवार को जारी वार्षिक रिपोर्ट में बताया गया है कि मार्च 2023 के आखिर में जमाकर्ता शिक्षा और जागरूकता कोष में राशि 62,225 करोड़ रुपए थी।

सहकारी बैंकों सहित सभी बैंक, खाताधारकों की 10 या अधिक वर्षों से उनके खातों में पड़ी हुई दावा न की गई जमाराशियों को RBI के जमाकर्ता शिक्षा एवं जागरूकता (DEA) कोष में ट्रांसफर करते हैं।

RBI ने खाताधारकों की सहायता के लिए और निष्क्रिय खातों पर मौजूदा अनुदेशों को समेकित तथा युक्तिसंगत बनाने के मकसद से इस वर्ष की शुरुआत में बैंकों द्वारा अपनाए जाने वाले उपायों पर व्यापक दिशा-निर्देश जारी किए थे।

RBI ने कुछ माह पहले ही कहा था कि करीब 30 बैंक, लोगों को उद्गम पोर्टल के द्वारा बिना दावे वाली जमा राशि/खातों का पता लगाने की सुविधा प्रदान कर रहे हैं। उद्गम यानी बिना दावे वाली जमा के बारे में सूचना तक पहुंचने का एंट्री गेट ऑनलाइन पोर्टल है। यह आरबीआई ने ही तैयार किया है।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker