भारत

दिल्ली पुलिस ने यमुना खादर में चलाया तलाशी अभियान, 2 अपराधियों को गोली मारी

एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी के यमुना खादर (Yamuna Khadar) इलाके में दिल्ली पुलिस द्वारा चलाए गए तलाशी अभियान के दौरान दो अपराधियों को गोली लगी, जबकि एक को गिरफ्तार कर लिया गया। एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी।

यमुना खादर जिसमें जंगल और प्रचुर क्षेत्र शामिल हैं, डकैती और अन्य जघन्य अपराधों के लिए एक संवेदनशील बिंदु बन गया है और अपराधियों का ठिकाना है।

पिछले कुछ दिनों में यह बात सामने आई है कि खादर क्षेत्र में आसपास की सड़कों पर लूट आदि को अंजाम देकर अपराधी गायब हो जाते हैं।

मुठभेड़ (Encounter) के दौरान घायल हुए दो आरोपियों की पहचान दीपांशु चौहान और सूरज के रूप में हुई है। नीरज नाम के एक अन्य आरोपी को भी उस समय पकड़ लिया गया, जब वह भागने की कोशिश कर रहा था।

दो आरोपियों की पहचान दीपांशु चौहान और सूरज के रूप में हुई

जानकारी देते हुए पुलिस उपायुक्त (Northeast) संजय कुमार सेन ने शनिवार को बताया कि खादर क्षेत्र में लुटेरों की मौजूदगी की सूचना मिली थी, जिसके बाद एक व्यापक तलाशी अभियान की योजना बनाई गई और सीलमपुर और खजूरी खास की उप-मंडल टीमों और ऑपरेशन विंग को शामिल किया गया।

तलाशी अभियान के दौरान रात करीब 8.20 बजे पुलिस टीम घने जंगल में पहुंची, तो वहां 4-5 लोगों की संदिग्ध मौजूदगी देखी। पुलिस टीम चुपके से उस जगह की ओर बढ़ी, लेकिन लोगों ने पुलिस की मौजूदगी को भांप लिया और अचानक पुलिस टीम की दिशा में फायरिंग कर दी।

अधिकारी ने कहा, पुलिस दल ने उन्हें चेतावनी दी और उन्हें रोकने के लिए हवा में गोलियां चलाईं, लेकिन वे भागने लगे और फिर से पुलिस पर गोलियां चला दीं। जवाबी कार्रवाई में पुलिस दल ने भी उसी दिशा में गोलियां चलाईं, जिस कारण एक व्यक्ति को गोली लगी।

घायल व्यक्ति को जेपीसी अस्पताल में भर्ती कराया गया और प्राथमिक उपचार के बाद उसे आरएमएल अस्पताल (RML Hospital) रेफर कर दिया गया। अधिकारी ने कहा, इस समय उसका इलाज चल रहा है और उनकी हालत स्थिर है।

पुलिस ने उनके खिलाफ धारा 186/353/307/34 आइपीसी और 27 आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।पुलिस टीम पर फायरिंग करने वाले संदिग्ध लोगों को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान जारी है।

दोपहर करीब 2.15 बजे गढ़ी मेंधू गांव की ओर जाने वाली सड़क के किनारे पाइप लाइन के पास खादर क्षेत्र में 2-3 और संदिग्ध लोगों को देखा गया।

पुलिस टीम को देख वे भी भागने लगे और पुलिस टीम ने उन्हें रुकने को कहा तो उन्होंने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी।

डीसीपी सैन ने कहा, पुलिस टीम ने उन्हें चेतावनी दी और उन्हें आत्मसमर्पण करने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने फिर से पुलिस पर गोलियां चलाईं।

कोई विकल्प नहीं होने पर पुलिस टीम ने जवाबी कार्रवाई की और आत्मरक्षा (Self Defense) में गोली चलाई। इस प्रक्रिया में उनमें से एक को गोली लग गई।

घायल आरोपी को अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया।इसके अलावा उक्त तलाशी अभियान के दौरान यमुना खादर क्षेत्र से कुल 25 संदिग्ध व्यक्तियों को पकड़ा गया।