एक्टर को बेल संत को जेल, पर्ल वी पुरी को जमानत मिलते ही भड़के आसाराम के भक्त

मुंबई: पर्ल वी पुरी को जमानत मिल गई है। नाबालिग से रेप के आरोप के बाद मुंबई पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के तहत एक्टर को गिरफ्तार किया था। एक्टर को वसई सेशन कोर्ट ने जमानत दी है।

करीब 11 दिनों के बाद एक्टर को जमानत मिलने से आसाराम बापू के भक्त खासा गुस्से में है। दरअसल, आसाराम बापू पिछले कई सालों से जेल में हैं।

उन पर भी पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कराया गया है। लेकिन उम्र के इस पड़ाव में भी उन्हें जमानत नहीं मिल रही है।

सोशल मीडिया पर आसाराम के भक्त इसी बात से खफा है कि नागिन-3 फेम एक्टर पर्ल वी पुरी को क्यों 11 दिनों में जमानत मिल गई।

सोशल मीडिया पर एक यूजर ने लिखा है, वाह.. ये रहा एक एक्टर को जमानत मिल जाती है, जहां भारत को संतों की भूमि कहा जाता है, उन्हें उसी पोक्सो अधिनियम के तहत जमानत नहीं मिलेगी, जहां संत आशारामजी बापू भी दोषी नहीं पाए जाते हैं।

भारत का न्याय न्यायालय सिर्फ पैसे के थैले से खरीदा जाता है। ऐसा शर्मसार कर देने वाला चेहरा।

एक अन्य यूजर ने लिखा, हिंदू संत श्री आशारामजी बापू पर पॉक्सो के तहत मामला दर्ज, बेगुनाही के कई सबूतों के बावजूद उन्हें 8 साल में 1 दिन की भी जमानत नहीं मिली।

जबकि अभिनेता पर्ल वी पुरी को पोक्सो एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया था और 11 दिनों के भीतर जमानत मिल गई थी। ऐसा दोहरा मापदंड क्यों।

Back to top button