मुझे करण और इंडस्ट्री से कोई दिक्कत नहीं

मुंबई: ऐसा लगता है कि डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा और डायरेक्टर और प्रोड्यूसर करण जौहर ने अपने ठंडे रिश्ते को सौहार्दपूर्ण रिश्ते में बदल दिया है।

यह सब पिछले साल शुरू हुआ जब करण जौहर ने सार्वजनिक रूप से ‘भूत: द हॉन्टेड शिप’ का टाइटल सौंपने के लिए आरजीवी को धन्यवाद दिया।

इस हॉरर फिल्म में विक्की कौशल ने अभिनय किया है और एक प्रेस मीट में करण ने कहा था कि फिल्म इंडस्ट्री में उन्होंने दो दशकों में कभी भी ‘इस तरह की उदारता’ नहीं देखी है।

एक इंटरव्यू में राम गोपाल ने स्वीकार किया कि उन्हें करण जौहर सहित बॉलीवुड में किसी से कोई समस्या नहीं है।

फिल्म निर्माता ने कहा कि दोनों के रिश्ते सौहार्दपूर्ण हो गए थे और जब करण ने उनसे ‘भूत रिटर्न्स’ टाइटल के लिए रिक्वेस्ट किया, तो वर्मा को इस टाइटल को देने में कोई दिक्कत नहीं थी।

वर्मा ने कहा कि वह अपनी तरह का सिनेमा बनाने में संतुष्ट हैं और उन्हें फिल्म इंडस्ट्री में किसी के साथ कोई समस्या नहीं है। 2013 में आरजीवी ने एक व्यंग्यात्मक ट्वीट किया था।

आरजीवी ने लिखा था- ‘अगर कोई करण जौहर की ‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर’ से हटकर ‘टीचर ऑफ द ईयर’ बनाता है, तो यह ‘डिजास्टर ऑफ द ईयर’ बन जाएगा।’

उनके इस ट्वीट के जवाब में करण जौहर ने कहा था, ‘डिजास्टर ऑफ द ईयर’ आपका क्षेत्र है रामू। कोई भी कभी भी आपकी अपने लिए बनाई गई कंफर्टेबल प्लेस को रिप्लेस नहीं कर सकता।’

बता दें ‎कि ये दोनों फिल्म निर्माता ट्विटर पोस्ट के माध्यम से फेमस हुए और वर्षों से फैंस ने दोनों में कुछ उग्र आदान-प्रदान देखा है। खैर, यह सब अब बीते दिनों की बात लगती है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button