हत्या की वारदात को अंजाम देने से पहले खूंटी में PLFI के पांच उग्रवादी गिरफ्तार

Newswrap

खूंटी: पुलिस (Police) ने हत्या की वारदात को अंजाम देने जा रहे प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (PLFI) के पांच सक्रिय उग्रवादियों (Extremists) को गिरफ्तार किया है।

अनुमंडल पुलिस कार्यालय (Sub-Divisional Police Office) में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस (Press Conference) में SP नौशाद आलम ने गुरुवार को बताया कि गिरफ्तार उग्रवादियों (Extremists) में रांची सिकिदरी थाना क्षेत्र के आगरटोली निवासी अर्जुन मुंडा, गुमला जिले के बसिया थाना क्षेत्र का लाबाकेरा निवासी मुकेश चीक बड़ाईक, सिमडेगा जिले के बानो थाना क्षेत्र के बिरता निवासी सुरेंद्र बड़ाईक, रांची अनगड़ा थाना क्षेत्र के बुकी बल्लौटा निवासी पंकज महतो और चाईबासा (Chaibasa) जिले आनंदपुर थाना क्षेत्र का सौदा उपरटोली निवासी माईकल गुड़िया शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि आरोपित अर्जुन मुंडा की गिरफ्तारी (Arrest) तोरपा के पास स्थित चुरकी नदी के पास बस में छापेमारी कर की गयी।

अर्जुन मुंडा ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि PLFI उग्रवादी माईकल गुड़िया और मुकेश चीक बड़ाईक और पंकज महतो के साथ मिल कर आनंदपुर क्षेत्र में जमीन विवाद में पैसे को लेकर हत्या की योजना बनायी गयी थी, जिसे अंजाम देने के लिए रांची से रनिया जा रहे थे। यहां अन्य साथी मुकेश और पंकज इंतजार कर रहे थे। रांची से आने जाने के लिए खर्चा-पानी सुरेंद्र चीक बड़ाईक ने दिया था।

गिरफ्तार करने वाले पुलिस को पुरस्कृत किया जाएगा

SP ने बताया कि पुलिस की सक्रियता से एक व्यक्ति की जान बच गई। उन्होंने बताया कि मुकेश चीक बड़ाईक का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है।

उसके खिलाफ हत्या, रंगदारी, अपहरण, लेवी वसूली, आर्म्स एक्ट, 17 CLA सहित अन्य संगीन मामलों में गुमला जिले के पालकोट, बसिया और कमडारास थाना में पहले से ही सात मामले दर्ज हैं।

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार माइकल गुड़िया को पहले भी पुलिस जेल (Jail) भेज चुकी है। SP ने बताया कि गिरफ्तार करने वाले पुलिस अधिकारियों और पुलिसकर्मियों (Policemen) को पुरस्कृत किया जाएगा।

Share This Article