झारखंड : तीन दिनों से लापता दंपती और उनकी नाबालिग बेटी की मिली लाश, गला रेतकर की गयी हत्या

तीनों की चाकू से गला रेतकर हत्या की गयी थी

चाईबासा: पश्चिमी सिंहभूम जिले के बंदगांव थाना क्षेत्र स्थित पोड़ेंगेर गांव के एक ही परिवार के तीन सदस्य सात-आठ नवंबर की रात से लापता थे।

अब बुधवार को (10 नवंबर 2021) को उन तीनों की लाशें मिली हैं। उन तीनों की हत्या कर उनकी लाशों को कोयलकारो नदी घाट में दफना दिया गया था।

मृतकों में सालेम डांगा (40), उनकी पत्नी बेलानी डांगा (40) और उनकी 13 साल की बेटी शामिल हैं। पुलिस ने तीनों लाशों को पोस्टमॉर्टम के लिए चक्रधरपुर भेज दिया।

प्रभारी अनुमंडल अधिकारी दिलीप खलखो ने बताया कि तीनों के लापता होने की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने गांव के ही मार्क्स डांगा को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था।

पुलिस उससे सख्ती से पूछताछ की, तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया और उसी की की निशानदेही पर पुलिस ने कोयलकारो नदी घाट में दफनायी गयीं तीनों लाशों को बरामद कर लिया।

तीनों की चाकू से गला रेतकर हत्या की गयी थी। खलखो ने बताया कि सालेम की दो अन्य बेटियां अपनी मौसी के घर गयी हुई थीं, इस वजह से उन दोनों की जान बच गयी, वरना उनकी भी हत्या कर दी जाती।

उन्होंने बताया कि हत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है। प्रथम दृष्टया आपसी दुश्मनी में हत्या किये जाने का मामला प्रतीत हो रहा है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button