झारखंड : जब कार से कूदकर बचाओ-बचाओ चिल्लाई दुल्हन और मामले का हुआ खुलासा तो फटी की फटी रह गईं सबकी आंखें

...तो पुलिस का ठनका माथा

धनबाद/वाराणसी: उत्तर प्रदेश के वाराणसी शहर में कार से कूदकर बचाओ-बचाओ चिल्लाने वाली दुल्हन के मामले में अजीबोगरीब खुलासा हुआ है।

मामला शादी और फ्राड के साथ लूट का निकला। दुल्हन एक संगठित गिरोह की सदस्या निकली। यह गिरोह महिला की पहले कहीं शादी तय करते हैं।

शादी के नाम पर दूल्हा पक्ष से नगद रुपये वसूलते हैं। रुपये ठीक-ठाक मिल गए तो शादी के अगले ही दिन सभी फरार हो जाते हैं।

अगर रुपये नहीं मिले तो ससुराल जाने के बाद वहां से लूटपाट कर फरार हो जाते हैं। गुरुवार को वाराणसी के एक होटल में महिला ने पांचवीं शादी की थी।

होटल में ही तय रुपये मिल गए तो महिला बचाओ बचाओ करके भागने की फिराक में थी। फिलहाल महिला को थाने में ही रखा गया है। पुलिस महिला के खिलाफ तहरीर का इंतजार कर रही है।

धनबाद की रहने वाली है 5वीं शादी रचाने वाली दो बच्चों की मां

झारखंड के धनबाद की रहने वाली सलमा खातून दो बच्चों की मां भी है। उसके गिरोह के लोगों ने कुछ दिन पहले ही उसकी पांचवी शादी राजस्थान के जाजे कला शाहपुर के कैलाश से तय की थी।

झारखंड : जब कार से कूदकर बचाओ-बचाओ चिल्लाई दुल्हन और मामले का हुआ खुलासा तो फटी की फटी रह गईं सबकी आंखें

शर्त के मुताबिक शादी के लिए 1 लाख 70 हजार रुपए मिलने थे। वाराणसी के होटल में शादी रखी गई थी।

होटल में ही दूल्हा पक्ष से पूरे रुपये ले लिये गए। महिला झारखंड से वाराणसी के होटल में आई थी। जहां पर गुरुवार की दोपहर हिंदू रीति रिवाज से कैलाश के साथ उसने सात फेरे लिये। होटल से भागने का मौका नहीं मिला।

कार रुकी तो भागने के लिए दुल्हन का ड्रामा

इसके बाद दुल्हन बनी सलमा अपने पति और उसके परिजनों के साथ कार से इलाहाबाद रवाना हो गई।

इलाहाबाद से ट्रेन से उन्हें राजस्थान जाना था। इस बीच कपसेठी चौराहे पर चालक ने चाय पीने के लिए कार रोक दी।

झारखंड : जब कार से कूदकर बचाओ-बचाओ चिल्लाई दुल्हन और मामले का हुआ खुलासा तो फटी की फटी रह गईं सबकी आंखें

कार रुकते ही दुल्हन बनी सलमा ने भागने के लिए ड्रामा शुरू कर दिया। बचाओ बचाओ चिल्लाते हुए अपने अपहरण की बातें करने लगी। ग्रामीणों ने उसकी बातों पर भरोसा किया और कार सवार लोगों को पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया।

अचानक हुई घटना से कार सवार भी सकपका गए। पैसे देकर शादी की थी इसलिए ग्रामीणों को कुछ बोल भी नहीं सके।

…तो पुलिस का ठनका माथा 

लोगों ने शादी कराने आए पंडित मुरारी लाल शर्मा, दूल्हा कैलाश, उसके बड़े भाई रामसहाय, साथ आए सुरेंद्र, ममेरे भाई गणपत और चालक को पकड़ लिया।

थाने पहुंचे लोगों ने शादी की बातें बताईं तो पुलिस का माथा ठनका। दुल्हन की मां को भी शुक्रवार दोपहर कपसेठी थाने बुला लिया गया।

इसके बाद पुलिस के सामने उसने सारी बात उगल दी। थानाध्यक्ष अनिल मिश्रा ने बताया कि इस मामले में किसी पक्ष से तहरीर नहीं मिली है इसलिए कोई मुकदमा दर्ज नहीं किया गया है।

अधिकारियों के निर्देश पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल दोनों पक्ष थाने में ही मौजूद हैं।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button