पलामू में गम्भीर लक्षण वाले मरीजों को भेजा जाएगा जिला कोविड अस्पताल

मेदिनीनगर: उपायुक्त शशि रंजन ने ज़िले में गठित जांच दल को जांच किट प्रदान किया तथा उन्हें निर्देश दिया कि सर्वेक्षण एवं जांच का कार्य उच्च स्तर का हो, यह सुनिश्चित किया जाए।

इसके अलावा उन्होंने प्रतिदिन डेटाबेस तैयार करने का निर्देश दिया। 25 मई से 5 जून तक प्रखंड स्तर पर किए जाने वाले जन सर्वे एवं रैपिड एंटीजन टेस्ट आधारित कोविड-19 जांच अभियान को देखते हुए प्रत्येक पंचायत में न्यूनतम एक सर्वे टीम तथा न्यूनतम एक जांच दल का गठन संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा किया जाएगा।

उपायुक्त ने इस संबंध में बताया कि जिला अंतर्गत सर्वे का कार्य मंगलवार से प्रारम्भ होगा।

सर्वे कार्य के सफल क्रियान्वयन को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है तथा प्रखंड एवं पंचायत स्तर पर बेहतर माइक्रोप्लान बनाया गया है।

सभी संबंधित कर्मियो को निर्देश दिया गया है। सभी को इससे संबंधित प्रशिक्षण दिया जा चुका है।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में रैट जांच, कोरोना संक्रमित होने पर स्वयं को दूसरों से आईसोलेट करने, कोविड समुचित व्यवहार यथा मास्क पहनने, निरंतर हाथ धोने तथा सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करने के सम्बंध में विस्तार से जानकारियां साझा की गई है।

साथ ही कोरोना संक्रमण के गंभीर लक्षण दिखने पर तुरंत जिला प्रशासन एवं प्रखंड प्रशासन को सूचित कर त्वरित स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करने का निर्देश दिया गया है।

इसके साथ ही सर्वे कार्यों के दौरान कोविड अनुरूप व्यवहारों का पूर्ण पालन करने व विशेष सावधानी व सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button