झारखंड में कोरोना ने छीना बच्चों के सर से माता-पिता का साया, डालसा ने बढ़ाया मदद का हाथ

धनबाद: वैश्विक महामारी की दूसरी घातक लहर में अपने माता-पिता का साया गुमाने वाले बच्चों को प्रोजेक्ट शिशु के तहत प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश सह अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकार, धनबाद राम शर्मा ने दो-दो हजार का चेक सुपुर्द किया।

बच्चों को चेक देने के बाद प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने बताया कि झारखंड लीगल सर्विसेज अथॉरिटी के कार्यकारी अध्यक्ष न्यायाधीश अप्रेश कुमार सिंह के निर्देश पर कोरोना संक्रमण से अपने माता-पिता का साया गुमाने वाले बच्चों को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए प्रोजेक्ट शिशु आरंभ किया गया है।

वैसे बच्चों को चिन्हित कर जिला समाज कल्याण विभाग व जिला बाल संरक्षण ईकाई द्वारा उन्हें स्पॉन्सरशिप प्रदान की जा रही है। जिले में ऐसे 60 बच्चों को चिन्हित कर सत्यापित किया गया है।

गुरुवार को उनमें से आठ बच्चों को चेक प्रदान किया गया। इस अवसर पर अवर न्यायाधीश सह जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव अरविंद कच्छप ने कहा कि प्रोजेक्ट शिशु के लिए डालसा को असाइनमेंट दिया गया है।

डालसा के पैरा लीगल वालंटियर्स ने घर-घर जाकर ऐसे बच्चों की पहचान कर उन्हें सत्यापित किया है। सभी बच्चों को उनकी योग्यता के अनुसार सभी सरकारी योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

मौके पर उप विकास आयुक्त दशरथ चंद्र दास, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी स्नेह कश्यप, जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी साधना कुमारी, संरक्षण पदाधिकारी आनंद कुमार, लेखापाल गोरांगो नंदी, डालसा के राजेश सिंह व अन्य लोग उपस्थित थे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button